सुनंदा पुष्‍कर मर्डर मिस्ट्री: दिल्ली पुलिस ने दायर की 3000 पन्नों की चार्जशीट, थरूर को बनाया आरोपी

नई दिल्ली। सुनंदा पुष्कर की मौत के करीब 4 साल के बाद दिल्ली पुलिस ने सोमवार को इस मामले में चार्जशीट दायर की है। 2014 में दिल्ली के एक होटल में सुनंदा पुष्कर की मौत संदिग्ध हालात में हुई थी।

sunanda_pushkar

गौरतलब है कि इससे पहले शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर की मौत की जांच SIT से कराने की बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी की याचिका को दिल्ली हाई कोर्ट ने खारिज कर दी थी। दिल्ली हाईकोर्ट ने कहा था कि ये जनहित याचिका नहीं राजनीति हित की याचिका का उदाहरण है।

लेकिन अब दिल्ली पुलिस ने 4 साल बाद पटियाला हाउस कोर्ट आईपीसी की धरा 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना), धरा 306 (वैवाहिक जीवन में प्रताड़ना) के तहत आरोप पत्र दाखिल किया है। दिल्ली पुलिस ने 300 पन्नों का आरोप पत्र दाखिल किया है, जिसपर कोर्ट 24 मई को संज्ञान लेगी। पुलिस ने इस पूरे प्रकरण में शशि थरूर को आरोपी माना है। आपको बता दे कि दिल्ली पुलिस ने इससे पहले भी इस मामले में हत्या का केस भी दर्ज किया था। मगर सबूतों के अभाव के कारण थरूर पर कोई चार्ज नहीं लिया गया।

गौरतलब है कि 17 जनवरी 2014 में पुष्कर एक लग्जरी होटल रूम में मृत पाई गई थीं। उनकी मौत के बाद यह खबर आई थी कि पाकिस्तानी पत्रकार मेहर तरार के साथ शशि थरूर की नजदीकियों की खबर आई थी। सुनंदा पुष्कर के शुरुआती पोस्टमार्टम में मौत की वजह ज़हर बताई गई थी। उनके शरीर में अल्जोलम के सबूत मिले और कमरें में नींद की गोलियां पाई गईं। लेकिन असल में ज़हर कौन सा था, यह पता नहीं चल पाया।

Related Articles