सुप्रीम कोर्ट ने आईबीसी प्रावधानों को चुनौती देने वाली याचिकाएं की स्थानांतरित

उच्चतम न्यायालय ने विभिन्न उच्च न्यायालयों में दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) में व्यक्तिगत गारंटियों से संबंधित प्रावधानों को चुनौती देने वाली याचिकाएं अपने पास स्थानांतरित करने का गुरुवार को आदेश दिया।

नई दिल्ली : उच्चतम न्यायालय ने विभिन्न उच्च न्यायालयों में दिवाला एवं ऋण शोधन अक्षमता संहिता (आईबीसी) में व्यक्तिगत गारंटियों से संबंधित प्रावधानों को चुनौती देने वाली याचिकाएं अपने पास स्थानांतरित करने का गुरुवार को आदेश दिया। न्यायमूर्ति एल. नागेश्वर राव, न्यायमूर्ति हेमंत गुप्ता और न्यायमूर्ति अजय रस्तोगी की खंडपीठ के समक्ष वरिष्ठ अधिवक्ता माधवी दीवान ने दलील दी कि यह उचित होगा कि संबंधित मुद्दे शीर्ष अदालत द्वारा तय किए जाएं ताकि इसे लेकर देश भर में एक सामान्य निर्णय पारित किये जा सकें।

ये भी पढ़े : हरियाणा अकादमी की तीसरी जीत, रवि ब्रदर्स को सात विकेट से हराया

भारतीय स्टेट बैंक की ओर से पेश सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने भी इसका समर्थन किया, इसके बाद न्यायालय ने सभी याचिकाओं को अपने पास स्थानांतरित करने का आदेश पारित किया।

Related Articles