मिर्जापुर वेब सीरीज पर भी सुप्रीम कोर्ट का नोटिस, निर्माताओं को देना पड़ेगा इन सवालों के जवाब

वेब सीरीजों में कुछ न कुछ कमियों की वजह से लोगों के द्वारा आपत्ति करने का सिलसिला जारी है।

नई दिल्ली: वेब सीरीजों में कुछ न कुछ कमियों की वजह से लोगों के द्वारा आपत्ति करने का सिलसिला जारी है। इस सिलसिले के लपेटे में अब मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं के साथ अमेजन प्राइम वीडियो भी आ गया है।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने मिर्जापुर वेब सीरीज के निर्माताओं और अमेजन प्राइव वीडियो को नोटिस जारी कर जवाब मांगा है। सुप्रीम कोर्ट ने मेकर्स और प्रोड्यूसर्स को नोटिस जारी कर मिर्जापुर जिले की गलत छवि को दिखाने का आरोप लगाया है।

दरअसल इस वेब सीरीज के खिलाफ यह कहते हुए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर दी गई थी कि इसमें मिर्जापुर जिले का गलत चित्रण किया गया है और जिसकी वजह से इस जिले की छवि खराब हुई है। पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट में मेकर्स के खिलाफ यह कहते हुए अर्जी दी गई थी कि इस वेब सीरीज में हकीकत से परे चीजें दिखाई गई हैं और मिर्जापुर की छवि ऐसी नहीं है जैसा वेब सीरीज में दिखाया गया है।

मिर्जापुर की छवि ऐसी नहीं

हाल ही में एक ऐसा केस भी सामने आया था जिसमें युवक को इंटरव्यू से अपमानित करके निकाल दिया गया था क्योंकि वह मिर्जापुर जिले का रहने वाला था। हाल ही में रिलीज हुई तांडव वेब सीरीज पर विवाद छिड़ने के बाद से मिर्जापुर का मामला एक बार फिर उभरकर सामने आया है।
बताते चले कि तांडव के अलावा मिर्जापुर वेब सीरीज के भी दोनों सीजन अमेजन प्राइम वीडियो पर ही रिलीज हुए हैं।

यह भी पढ़ें: Farmer Strike: अखिलेश का बड़ा ऐलान, तिरंगा लगाकर निकालेंगे ट्रैक्टर रैली

Related Articles