IPL
IPL

Param Bir Singh से Supreme Court ने कहा, ‘मामला गंभीर है लेकिन हाई कोर्ट जाएं’

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ( Anil Deshmukh ) के खिलाफ मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ( Param Bir Singh ) की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) ने सुनवाई की। इस दौरान कोर्ट ने परमबीर सिंह ( Param Bir Singh ) को कहा कि मामला बेहद गंभीर है लेकिन बॉम्बे हाई कोर्ट में पहले अपील करें। सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) जस्टिस एस. के कौल ने मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह की याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा कि इस मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट में अपील की जाए। इसके अलावा जस्टिस कॉल ने परमबीर सिंह से सवाल किया कि हाई कोर्ट जाने की जगह सुप्रीम कोर्ट क्यों आए?

बता दें कि परमबीर सिंह ने सुप्रीम कोर्ट ( Supreme Court ) से मुंबई के पुलिस कमिश्नर पद से उनके तबादले को ‘मनमाना’ और ‘गैरकानूनी’ होने का आरोप लगाते हुए इस आदेश को रद्द करने की अपील की है। परमबीर सिंह ( Param Bir Singh ) ने एक अंतरिम राहत के तौर पर अपने तबादला आदेश पर रोक लगाने और राज्य सरकार, केंद्र और CBI को महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ( Anil Deshmukh ) के आवास की CCTV फुटेज तुरंत कब्जे में लेने के लिए निर्देश देने का अपील की है।

परमबीर ने लगाए थे ये आरोप

सुप्रीम कोर्ट को दी गई याचिका में मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने कहा है कि अनिल देशमुख ने अपने आवास पर फरवरी 2021 में वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों की अनदेखी करते हुए क्राइम इंटेलिजेंस यूनिट, मुंबई के सचिन वझे और सोशल सर्विस ब्रांच, मुंबई के ACP संजय पाटिल समेत कई पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की थी। याचिका में उन्होंने आगे कहा था कि जिन पुलिसकर्मियों के साथ अनिल देशमुख ने बैठक की थी उन्हें हर महीने 100 करोड़ रुपये की वसूली करने का लक्ष्य दिया था। साथ ही कई कंपनियों और अन्य स्रोतों से भी वसूली करने का निर्देश दिया था।

यह भी पढ़ेें: ‘सरकार की गलत नीतियों के कारण लोग बेरोजगार हो गए’

Related Articles

Back to top button