सुरेश रैना जम्मू-कश्मीर के खिलाड़ियों को देना चाहते है अपना अनुभव

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सुरेश रैना ने जम्मू-कश्मीर खेल समिति के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा कि वह भारत के लिए 15 वर्ष तक खेले और यह अनुभव अब वह वापस जम्मू-कश्मीर के खिलाड़ियों को देना चाहते हैं।

जम्मू-कश्मीर: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सुरेश रैना ने जम्मू-कश्मीर खेल समिति के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद कहा कि वह भारत के लिए 15 वर्ष तक खेले और यह अनुभव अब वह वापस जम्मू-कश्मीर के खिलाड़ियों को देना चाहते हैं। जम्मू-कश्मीर खेल समिति ने मंगलवार को भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी सुरेश रैना क्रिकेट अकादमी के साथ प्रदेश में युवा खिलाड़ियों की प्रतिभा को बढ़ावा देने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किये है।

इस समझौते को लेकर रैना ने यहां आयोजित संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘‘प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को तलाशने के लिए हम जमीनी स्तर पर जायेंगे उन्हें अच्छा क्रिकेटर बनाएंगे। मैं भारत के लिए 15 वर्षों तक खेला हूं और मैं यह अनुभव अब वापस जम्मू-कश्मीर को देना चाहते हूं।’’ उन्होंने प्रतिभाशाली खिलाड़ियों को तलाशने के लिए इस तरह के कदम उठाये जाने को लेकर प्रदेश की राज्यपाल मनोज सिन्हा का धन्यवाद भी किया। उन्होंने कहा, ‘‘जम्मू-कश्मीर में पास अच्छा-खासी प्रतिभा और यहां पर अलग मौसम की स्थिति के कारण खिलाड़ी पहले से ही काफी फिट हैं।’’

ये भी पढ़े : आगरा में पुलिसकर्मी की हत्या करने वाला इनामी हत्यारोपी गिरफ्तार

रैना ने कहा कि युवा खिलाड़ियों को इस तरह के मौकों को भुनाना चाहिए और जम्मू-कश्मीर सरकार तथा वह बेहद खुश होंगे अगर कोई जम्मू-कश्मीर से कोई भी खिलाड़ी क्रिकेट में देश का प्रतिनिधित्व करता है।

Related Articles