Sushant Singh Rajput का दोस्त सिद्धार्थ पिठानी 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी को ड्रग्स मामले में NCB ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है

मुंबई: बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के दोस्त सिद्धार्थ पिठानी (Siddharth Pithani) को ड्रग्स मामले में नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेजा गया है।

सिद्धार्थ पिठानी को हैदराबाद से गिरफ्तार किया गया था। आपकी जानकारी के लिए यह बता दें की सिद्धार्थ सुशांत सिंह राजपूत का दोस्त था और दोनों मुंबई में एक साथ एक ही फ्लैट में रहते थे।

ड्रग्स मामले में इससे पहले NCB ने सुशांत सिंह राजपूत के बॉडीगार्ड को तलब किया है। 2 जून को सुशांत की मौत से जुड़े मामले में हरीश खान नाम के एक ड्रग पैडलर को भी गिरफ्तार किया गया है। सुशांत के मामले में NCB लगातार जांच कर रही है।

जानें पूरी घटना

सुशांत सिंह राजपूत को 14 जून 2020 के दिन में मुंबई के बांद्रा स्थित उनके घर में मृत पाया गया था। प्राथमिक सूचना के अनुसार उनके निधन का कारण आत्महत्या बताया गया। और बताया गया कि सुशांत सिंह राजपूत पिछले 6 महीने से Depression में थे। उनकी मौत के बाद मुंबई पुलिस ने इस मामले की जांच शुरू की और इसके तहत कई लोगों से पूछताछ हुई। उनकी पोस्टमॉर्टेम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण ‘दम घुटना’ बताया गया  है।

सुशांत की मौत के बाद से ही उनके प्रशंसक CBI जांच की मांग कर रहे हैं। उनके अनुसार इस मामले में किसी षड़यंत्र होने की आंशका है। हालांकि महाराष्ट्र सरकार ने CBI जांच से साफ़ इनकार किया। उनकी मौत के लगभग डेढ़ महीने बाद 28 जुलाई को उनके पिता केके सिंह ने पटना के एक थाने में सुशांत की कथित तौर पर महिला मित्र रिया चक्रवर्ती और पांच अन्य के खिलाफ FIR दर्ज कराई जिसमें उन्होंने धोखाधड़ी और आत्महत्या के लिए उकसाने जैसे आरोप लगाए।

 

 

CBI जांच की सिफारिश

इसके बाद बिहार पुलिस ने मामले की जांच शुरू की। प्रवर्तन निदेशालय ने भी संज्ञान लेकर इस मामले में धन के संदिग्ध लेनदेन को लेकर अपनी जांच शुरू की। 5 अगस्त को सुप्रीम कोर्ट में इस मामले की सुनवाई में अधिवक्ता तुषार मेहता ने बताया कि केंद्र ने बिहार सरकार की CBI जांच की सिफारिश को स्वीकार कर लिया है। इस पर CBI ने 6 अगस्त को केंद्र से अधिसूचना मिलने बाद रिया चक्रवर्ती समेत छह लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर केस की जांच शुरू की।

रिया चक्रवर्ती द्वारा इस केस को पटना से मुंबई स्थानांतरित करने हेतु दायर याचिका पर सुनवाई करते हुए उच्चतम न्यायालय ने 19 अगस्त को बिहार में दर्ज केस को सही ठहराते हुए फैसला सुनाया कि सीबीआई ही इस केस की जांच करेगी। इस मामले में मादक पदार्थों के उपयोग को लेकर 26 अगस्त को स्वापक नियंत्रण ब्युरो (NCB) ने रिया समेत 5 लोगों पर केस दर्ज किया।

8 सितंबर को NCB ने सुशांत की मौत की जांच से जुड़े एक ड्रग केस में रिया चक्रवर्ती को गिरफ्तार किया। इससे पहले NCB इस ड्रग केस में रिया के भाई शौविक चक्रवर्ती समेत 9 लोगों को हिरासत में ले चुकी थी। 3 अक्टूबर को CBI द्वारा जांच में सहयोग के लिए गठित की गई AIIMS दिल्ली की टीम के प्रमुख डॉ. सुधीर गुप्ता ने कहा कि सुशांत की मौत आत्महत्या का मामला है।

यह भी पढ़ेब्लैक फंगस के 12,000 इंजेक्शन की खेप Indore पहुंची, मरीजों को मिलेगी राहत

Related Articles

Back to top button