सुशांत के ट्रेनर ने कहा- रिया से जुड़ने के बाद बदल गए थे सुशांत, ले रहे थे अलग दवाइयां

0

मुंबई: सुशांत सिंह राजपूत को गुजरे भले डेढ़ महीना बीत गया हो लेकिन उनसे जुड़ीं खबरें आज तक सुर्खियों में हैं। उनकी एक्स-गर्लफ्रेंड रिया से जुड़े कुछ खुलासे हो रहे हैं जो वाकई चौंकाने वाले हैं। सुशांत के पिता का आरोप है कि रिया की वजह से सुशांत ने आत्महत्या की है। सुशांत की मौत के बाद उनके डिप्रेशन से जुड़ी खबरें भी आई थीं। बताया जा रहा था कि सुशांत कुछ दवाएं ले रहे थे। अब सुशांत के ट्रेनर का कहना है कि सुशांत बीते दिसंबर से अजीब दवाएं लेरहे थे जिसकी वजह से उनकी हेल्थ खराब हो रही थी।

सुशांत के ट्रेनर समी अहमद ने हैरान करने वाली बातें बताईं। समी ने बताया कि सुशांत ने जबसे रिया को डेट करना शुरू किया था, वह बदल गए थे। इससे पहले वह दवाएं नहीं लेते थे रिया से मिलने के बाद ही उन्होंने दवाएं लेनी शुरू कीं। उन्होंने बताया कि इन दवाओं की वजह से सुशांत के पैर कांपने लगे थे और हेल्थ खराब हो रही थी। ये दवाएं उन्होंने दिसंबर 2019 में लेनी शुरू की थीं।

पूछने पर सुशांत ने बताया था कि वह डिप्रेशन की दवाएं ले रहे हैं। ट्रेनर ने उनसे कहा था कि नेगेटिव इम्पैक्ट है तो ये दवाएं छोड़ देनी चाहिए पर सुशांत ने बताया कि दवाएं बीच में नहीं छोड़ी जा सकतीं। कोर्स पूरा करना पड़ेगा। सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद खबरें आई थीं कि सुशांत सिंह राजपूत डिप्रेशन में थे। यह भी कहा जा रहा था कि वह बाईपोलर थे। उनकी गर्लफ्रेंड रह चुकीं अंकिता लोखंडे ने एक टीवी चैनल को दिए इंटरव्यू में खुलकर बोला है। अंकिता ने कहा कि सुशांत की मौत के 15 मिनट के अंदर ही खबरें आने लगीं कि उन्होंने सूइसाइड किया। वह डिप्रेशन में थे। वह बताती हैं, मुझे इस चीज को एक्सेप्ट करने में बहुत वक्त लग गया। वह ऐसा लड़का था ही नहीं जो सूइसाइड कर ले।

अंकिता ने बताती हैं, मैंने सुशांत जैसा लड़का नहीं देखा। वो डायरी लिखता था कि उसके 5 साल के क्या प्लान हैं। ठीक 5 साल बाद उसने वो सब प्लान पूरे कर लिए। वो हैपी-गो-लकी पर्सन था। वह ऐसा इंसान नहीं था जो परेशानी आने पर सूइसाइड कर ले। अंकिता लोखंडे ने कहा, मुझे नहीं पता क्या सिचुएशन थी लेकिन मैंने और सुशांत ने इससे कहीं ज्यादा बुरा वक्त देखा है और इससे बाहर आए हैं। वह अपसेट हो सकता है लेकिन डिप्रेस नहीं। उन्होंने कहा कि ऐंग्जाइटी सबको होती है लेकिन मैं डंके की चोट पर बोल सकती हूं कि सुशांत डिप्रेशन में नहीं था।

अंकिता ने कहा कि वह चाहती हैं कि लोग उन्हें हीरो के रूप में याद रखें न कि एक डिप्रेस्ड इंसान के रूप में। लोग अपनी-अपनी कहानी बना रहे हैं कि वो ऐसा था या वैसा था। किसी को पता भी है कि सुशांत क्या था? वो एक बच्चा था जो खाना देखकर खुश हो जाता था। जो रसगुल्ला देखकर खुश हो जाता था। अंकिता ने कहा कि लोग बोल रहे हैं कि वह बाइपोलर, किसी को पता भी है, ये सब कितनी बड़ी बातें हैं। उन्होंने कहा कि वह चाहती हैं कि लोग सुशांत को इंस्पिरेशन के रूप में देखें। एक छोटे शहर का लड़का जिसने इंडस्ट्री में अपनी जगह बनाई। पुलिस ने अंकिता लोखंडे के बयान ऑफिशली भी रेकॉर्ड कर लिए हैं।

सुशांत की फैमिली के वकील विकास सिंह का भी कहना है कि रिया ने सुशांत के परिवार की परमिशन के बिना उनका ट्रीटमेंट कैसे शुरू करवा दिया। उन्होंने बताया था कि सबको बताया गया था सुशांत डेंग्यू की दवाएं ले रहे हैं जबकि उन्हें डेंग्यू नहीं हुआ था। उन्होंने बताया था कि रिया काफी शातिर हैं औऱ उन्हें बचाने में कोई मदद भी कर रहा है।

loading...
शेयर करें