अफसरों की लापरवाही की वजह से हुआ NTPC हादसा

0

लखनऊ। यूपी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्या ने रायबरेली के ऊंचाहार स्थित नेशनल थर्मल पॉवर कारपोरेशन (एनटीपीसी) प्लांट में हुए हादसे को लेकर बड़ा बयान दिया है। उनका कहना है की इतना बड़ा हादसा अफसरों की लापरवाही की वजह से हुआ है।

पत्रकारों से बातचीत करते हुए स्वामी प्रसाद मौर्या ने कहा कि अलार्म बजने के बाद भी अफसरों ने उस पर ध्यान नहीं दिया और काम को बंद नहीं किया, जिसकी वजह से ये हादसा हो गया। मंत्री ने कहा कि ब्वॉयलर को अनापत्ति प्रमाण पत्र देने में कोई गड़बड़ी नहीं हुई।

उन्होंने ने कहा कि यह हादसा ब्वॉयलर के ऐश टैंक फटने की वजह से हुआ। यूनिट में सीमा से अधिक राख जमा थी, जिसे साफ नहीं किया गया था। मौर्या ने कहा कि हादसे की जांच श्रम विभाग भी करा रहा है। अन्य कई टीम भी घटना की जांच में जुटी है। जल्द ही हादसे की जिम्मेदारी तय की जाएगी।

गौरतलब है कि नेशनल थर्मल पावर कार्पोरेशन (एनटीपीसी) ऊंचाहार परियोजना के संयंत्र क्षेत्र में नवनिर्मित पांच सौ मेगावाट क्षमता की छठी इकाई में बिजली उत्पादन का काम चल रहा था। बुधवार शाम पांच से साढ़े पांच बजे बॉयलर के नीचे जलने वाली आग की राख पाइप से बाहर नहीं निकल सकी जिसकी वजह से उसमे ब्लास्ट हो गया। उस वक़्त वहां 200 से ज्यादा श्रमिक काम कर रहे थे। इस हादसे में मरने वालों की संख्या 33 हो गयी है।

loading...
शेयर करें