ट्रम्प और मेलानिया के लिए तैयार किया गया ताजमहल फूलों से महकेगा

आगरा:ताजमहल को 40 साल पहले की तरह दिखानेंके लिए भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण ने वक्त का पहिया ही घुमा दिया है। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और मेलानिया सोमवार को ताजमहल का दीदार करेंगे। इसके लिए ताजमहल को फूलों से सजाया जा रहा है। ताजमहल के मुख्य गुंबद, चमेली फर्श, रॉयल गेट पर रेलिंग हटा दी गई है, ताकि अमेरिकी राष्ट्रपति को घूमने के दौरान परेशानी न हो।

ताजमहल के मुख्य गुंबद में शाहजहां-मुमताज की कब्रों को मडपैक से चमका दिया गया है, जिससे वह 40 साल पहले की तरह दमकने लगी हैं। चारों ओर लगी संगमरमरी जाली साफ की गई है तो अंदर दीवारों की ओर लगी रेलिंग भी हटवा दी गई है। अमेरिकी अधिकारियों ने ताज को मूल रूप में ही दिखाने के लिए एएसआई से कहा है।

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप जब ताजमहल की पहली झलक रॉयल गेट के रेड सैंड स्टोन प्लेटफार्म से देखेंगे तो फूलों की सुंगध के बीच वह और मेलानिया होंगे। ताज पर 1980 के दशक में इस प्लेटफार्म पर फूलों के गमले रखे जाते थे, लेकिन भीड़ बढ़ने पर उन्हें हटवा दिया गया था।

ट्रंप के लिए रेड सैंड स्टोन प्लेटफार्म पर लिली, गेंदा, सूरजमुखी, गुलाब, पिट्यूनिया, मेरीगोल्ड, क्लार्किया समेत 25 तरह के फूलों को रखवाया गया है। सेंट्रल टैंक और इसके पाथवे पर साइप्रस के पेड़ों छंटाई और घास पर डिजाइन तैयार की गई है। सेंट्रल टैंक के दोनों ओर पीले फूलों की क्यारियां अनूठा एहसास कराएंगी।

ताजमहल की चारों मीनारों, दीवारों, आर्च और अब कब्रों पर मुल्तानी मिट्टी से हुए मडपैक ट्रीटमेंट के कारण संगमरमर का पीलापन दूर हो चुका है। पूरे सप्ताह ताज की दीवारों की सफाई और धुलाई के कारण धूल-मिट्टी के कण भी हट चुके हैं। ऐसे में ताज उसी तरह से दमक रहा है, जैसा 40 साल पहले था।

Related Articles

Back to top button