बल्ख प्रांत की राजधानी मजार-ए-शरीफ पर तालिबान ने जमाया कब्जा, सेनाओं का टूटा बल

काबुल: तालिबान ने अफगनिस्तान के अधिकतर हिस्सों पर धीरे धीरे कब्जा जमा लिया है। अफगान सांसद ने इस बात की जानकारी दी है कि वहीं बल्ख प्रांत की राजधानी मजार-ए-शरीफ (Mazar-E-Sharif) पर भी तालिबान ने कब्जा कर लिया है। सांसद ने बताया कि विद्रोहियों की ओर से शुरू किए गए बहुपक्षीय हमले के बाद अफगानिस्तान के चौथे सबसे बड़े शहर मजार-ए-शरीफ तालिबान ने अपना कब्जा जमा लिया।

बल्ख के सांसद अबास इब्राहिमजादा का कहना है कि सबसे पहले प्रांत की राष्ट्रीय सेना ने डर कर कारण सरेंडर कर दिया है, जिसके बाद सरकार के समर्थन वाली सेना और अन्य बलों का मनोबल टूट गया और उन्होंने भी आत्मसमर्पण कर दिया। प्रांत की सभी इमारतों पर कब्जा जमा लिया है, जिसमे खासकर कि राजभवन को भी तालिबान ने अपने कब्जे में ले लिया है।

प्रांत की एक सांसद फौजिया रऊफी ने जानकारी दी है कि तालिबान अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के निकट पहुंच गया है। उसने उत्तरी फरयाब प्रांत की राजधानी मैमाना पर भी कब्जा कर लिया है। मैमाना का तालिबान ने एक महीने से घेरा डाल रखा था और तालिबान लड़ाके कुछ दिन पहले शहर में घुसे थे। उन्होंने कहा कि सुरक्षा बलों ने विरोध किया लेकिन आखिरकार शनिवार को आत्मसमर्पण कर दिया।

 

Related Articles