अफगानिस्तान संघर्ष को खत्म करने के लिए तालिबान ने रखा अमेरिका से सीधी बातचीत का प्रस्ताव

काबुल: तालिबान के सर्वोच्च नेता मुल्ला हेबतुल्ला अखुंदजादा ने अफगानिस्तान में चल रहे संघर्ष को खत्म करने के लिए अमेरिका के साथ सीधी बातचीत का प्रस्ताव दिया है।

अखुंदजादा ने ईद से पहले एक संदेश में कहा, “अगर अमेरिकी अधिकारी वास्तव में अफगानिस्तान संकट के शांतिपूर्ण समाधान में विश्वास करते हैं तो उन्हें सीधी बातचीत के मेज पर आना चाहिए, ताकि इस त्रासदी (हमले) को बातचीत से हल किया जा सके। इस त्रासदी से मुख्य तौर पर अमेरिकी व अफगान लोगों को नुकसान पहुंच रहा है।”

खामा प्रेस ने बुधवार को अखुंदजादा के हवाले से कहा, “अमेरिकी अधिकारियों की तरफ से सबसे बड़ी गलती यह है कि वे हर समस्या के साथ अड़ियल रवैया अपनाते हैं, लेकिन सेना हर मामले में परिणाम नहीं दे सकती।”

उन्होंने कहा, “इन सभी आपदाओं से खुद को बचाने का एकमात्र रास्ता यही है कि सभी अमेरिकी और यहां काबिज अन्य सेनाएं हमारे देश को छोड़ दें, ताकि यहां एक स्वतंत्र, इस्लामिक, शुद्ध अफगानी सरकार की जड़ें मजबूत हों।”

अखुंदजादा ने कहा, “हमने इस उद्देश्य के लिए आपसी समझ और बातचीत के दरवाजे खुले रखे हैं और इस संबंध में विशेष गतिविधि के लिए इस्लामी अमीरात का राजनीतिक कार्यालय नियुक्त कर रखा है।”

यह प्रस्ताव ऐसे समय में सामने आया है, जब अफगानों के नेतृत्व में सुलह के लिए बातचीत शुरू करने के प्रयास जारी हैं। हालांकि, तालिबान अब तक अफगान की अगुवाई वाली बातचीत के किसी भी रूप में भाग लेने से इनकार करता रहा है।

Related Articles