सीमा पर suicidal हमलावर तैनात करेगा तालिबान : रिपोर्ट

काबुल : तालिबान ने देश की सीमाओं पर तैनात करने के लिए suicidal हमलावरों की एक विशेष बटालियन बनाई है, खासकर बदख्शां प्रांत में जो अफगानिस्तान और ताजिकिस्तान के बीच की सीमा पर है।

suicidal हमलावरों ने ही अमेरिका को हराया था : गवर्नर

प्रांत के डिप्टी गवर्नर मुल्ला निसार अहमद अहमदी ने कहा कि बटालियन का नाम लश्कर-ए-मंसूरी या “मंसूर सेना” है। उन्होंने कहा कि बटालियन वही है जिसने पिछली अफगान सरकार के सुरक्षा बलों को निशाना बनाकर आत्मघाती हमले किये थे। इस कड़ी में खामा प्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, संयुक्त राज्य अमेरिका के खिलाफ तालिबान की सफलता के लिए आत्मघाती हमलावर बटालियन को श्रेय देते हुए, अहमदी ने कहा, “अगर यह बटालियन नहीं होती तो अमेरिका की हार संभव नहीं होती । यह बहादुर लोग विस्फोटक कमरकोट पहनेंगे और अफगानिस्तान में अमेरिकी ठिकानों को विस्फोट कर देगा। ये ऐसे लोग हैं जिन्हें सचमुच कोई डर नहीं है।

यह घोषणा ऐसे समय में महत्वपूर्ण है जब तालिबान और ताजिकिस्तान खुले तौर पर शब्दों की लड़ाई में उलझे हुए हैं क्योंकि ताजिकिस्तान अफगानिस्तान सरकार में जातीय ताजिकों के अधिक प्रतिनिधित्व की मांग कर रहा है।

यह भी पढ़ें : फेमिना के फैबुलस 40 में प्रदर्शित, रोहिणी को प्रेरक उद्यमी अवार्ड से किया सम्मानित

Related Articles