देश में बढ़ी तालिबानी हिंसा, अफगान सेना प्रमुख की बढ़ी चिंता, भारत यात्रा पर लिया बड़ा फैसला

काबुल: अफगान सेना प्रमुख जनरल वली मोहम्मद अहमदजई (General Wali Mohammad Ahmadzai) ने भारत आने का मन बनाया था लेकिन अब इसे टाल दिया गया है। दरअसल, अफगानिस्तान में इन दिनों तालिबान (Taliban) के मामले अधिक बढ़ गए है और इसी को ध्यान में रखते हुए जनरल वली मोहम्मद (General Wali Mohammad Ahmadzai) ने इस हफ्ते होने वाली भारत की अपनी यात्रा को स्थगित कर दिया है।

अफगान दूतावास ने आज सोमवार को इस बात की जानकारी दी है कि अफगान सेना प्रमुख जनरल वली मोहम्मद अहमदजई ने ये यात्रा कई महीने पहले ही निर्धारित थी। अहमदजई की ये यात्रा अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन की नई दिल्ली की यात्रा के बीच होने वाली थी।

27 से 30 जुलाई के बीच होनी थी यात्रा

पिछले महीने जनरल अहमदजई को अफगानिस्तान की सुरक्षा व्यवस्था के ऊंचे स्तर पर नियुक्त किया गया था, वें 27 से 30 जुलाई के बीच भारत की यात्रा करने वाले थे। अफगान दूतावास ने बस इतना बताया कि देश में युद्ध तेजी से बढ़ रहा, तालिबान के बढ़ते हमले और आक्रमण के कारण ये यात्रा स्थगित कर दी गई।

भारत में जनरल इनसे मिलने वाले थे

भारत मे उनका कार्य्रकम भारतीय समकक्ष जनरल एमएम नरवणे के साथ बातचीत करने और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल और अन्य शीर्ष सुरक्षा अधिकारियों से मिलने का था। इसके अलावा, वह विभिन्न संस्थानों में प्रशिक्षित अफगान कैडेटों से मिलने के लिए पुणे भी जाने वाले थे।

उस समय हो रही चर्चा जब हालात हो रहे बेकाबू

अफगानिस्तान में इस समय हालात बेकाबू है और उनकी इस यात्रा का यही मकसद था कि दोनों पक्षों को अफगानिस्तान में सुरक्षा स्थिति पर चर्चा करने का अवसर प्रदान करना था। ये चर्चा तब हो रही जब तालिबान तेजी से देश के एक बड़े हिस्से पर कब्जा करने में लगा हुआ है। तालिबानी इस समय बॉर्डर क्रॉसिंग को हथियाने में जुटा हुआ है। प्रमुख जिलों और सेंटर्स हालात को काबू करने के लिए अफगान सुरक्षा बल तालिबान के साथ संघर्ष कर रहे हैं।

 

Related Articles