रेल उपयोग कर्ता सलाहकार समिति की बैठक में हुई इन सुझावों पर बात

0

लखनऊ: भाजपा नेता शशिकान्त मिश्र ने गत दिनों प्रयागराज में आयोजित रेल उपयोग कर्ता सलाहकार समिति की बैठक में सलाहकार के रूप में प्रतिभाग कर यात्रिओ की सुविधा के लिए बिभिन्न प्रकार की कल्याणकारी योजनाओ के क्रियान्वयन का सुझाव रेल परामर्श दात्री समिति के समछ रखा जिसे स्वीकृत कराये जाने का पूर्ण आस्वासन दिया गया।बता दें कि शशिकान्त मिश्रा बेलौरा मूलतः प्रतापगढ़ जिले के दौलतपुर ग्राम के रहने वाले हैं जिन्हें रेल विभाग ने परामर्श दात्री समिति का सलाहकार नियुक्त किया है।शशिकान्त मिश्रा भाजपा के संगठन के एक सक्रिय कार्यकर्ता भी हैं। जिनकी सक्रियता को देखते हुए उन्हें यह दायित्व सौंपा गया है।

दिनांक 07.03.2019 को क्षेत्रीय रेल उपयोगकर्ता परामर्शदात्री समिति में शशिकांत मिश्रा द्वारा निम्न मुख्य सुझाव को रखा गया है .

  • रेलवे क्रासिंग के सामने झुग्गी झोपड़ी को सुरक्षा के दृष्टिकोण से हटाया जाय जो अवैध हो .तथा गेटमैन को उनपर FIR करने का अधिकार दिया जाय .यह बिन्दु देश की सुरक्षा से जुड़ा हुआ है. क्यों की रेल की पटरियों के किनारे झुग्गी झोपड़ी में जहरखुरानी वाले , बंगलादेशी अनधिकृत रूप से छुपे रहते है जो प्रशासन के पकड़ में बड़े छान-बीन के बाद आ पाते है | घटना करके ये लोग उन्ही झुग्गी झोपड़ियो में अपना अड्डा बनाते है . अगर संभव हो सके तो रेल लाइन के किनारे बार्कैडिंग की जाए समय समय पर रेल प्रशासन द्वारा रेल, विभाग द्वारा इन लोगो की जांच की जाए

  • रेलवे के खाली जमीन और पटरी के समानांतर आर्गेनिक पेड़ पौधे लगाना सुनिश्चित किया जाये जिससे पर्यावरण शुद्ध हो सके ये पर्यावरण को दृष्टिगत रखते हुए कार्य होगा |
  • लम्बी दूरी के ट्रेनों में जनरल डिब्बो की संख्या बढ़ाई जाये जिससे आम आदमी आराम से यात्रा कर सके |

इसके साथ ही शशिकांत मिश्र जी के द्वारा प्रयागराज से लखनऊ हेतु शताब्दी एक्सप्रेस चलाने हेतु शताब्दी एक्सप्रेस चलाने हेतु प्रस्ताव समय सारिणी एजेंडा 2019-20 में भेजा गया है |

 

 

 

loading...
शेयर करें