25 मार्च को वापस गए तमिलनाडु के किसान एक बार फिर दिल्‍ली लौटे, निकाला मार्च

0

नई दिल्‍ली। इस समय पूरे भारत में बाढ़ की स्थिति है। वहीं तमिलनाडु एक ऐसा राज्‍य है जो सूखे की मार झेल रहा है। तमिलनाडु के किसान सूखे से परेशान हैं। इन किसानों ने एक बार फिर नई दिल्‍ली की तरफ कूच किया है। पहले भी इन किसानों ने पीएम आवास के सामने धरना प्रदर्शन किया था। अपनी मांगों को लेकर इस राज्‍य के किसान काफी परेशान हैं।

तमिलनाडु के किसान

प्रधानमंत्री आवास तक तमिलनाडु के किसान ने निकाला प्रदर्शन

रविवार को प्रधानमंत्री आवास तक तमिलनाडु के किसान बहुत उम्‍मीद लगाकर गए। उन्‍होंने पीएम आवास तक विरोध मार्च निकाला। खबर मिली है कि ये लोग वहां पर धरना भी देंगे।

यह भी पढ़ें: तमिलनाडु के किसानों ने खत्म किया धरना, बोले- 15 दिनों में पूरी हो मांग नहीं तो फिर शुरू होगा प्रदर्शन

पुलिस ने लिया हिरासत में

विरोध मार्च निकाल रहे किसानों को पुलिस ने हिरासत में ले लिया और संसद मार्ग पुलिस स्टेशन ले गई। प्रदर्शन कर रहे किसान केंद्र सरकार से राहत पैकेज और कर्ज माफी की मांग कर रहे हैं।

यह भी पढ़ें: तमिलनाडु में किसानों के लिए जो काम सरकार न कर पाई वो रजनीकांत ने मिनटों में कर दिखाया

पीएम मोदी ने नहीं दिया कोई ध्‍यान

पिछली बार प्रदर्शन के दौरान किसानों की आवाज अनसुनी रह गई थी। इसके अलावा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से भी मिलने की उनकी मांग को अनसुना कर दिया गया।

यह भी पढ़ें:  पीएम मोदी के ऑफिस के सामने न्यूड हुए 28 किसान, जानें क्यों

25 मार्च को स्‍थगित हुआ था धरना पद्रर्शन

40 दिन तक चले अपने प्रदर्शन को 25 मार्च के दिन स्थगित करने के बाद किसानों ने कहा था कि वो एक दिन फिर लौटकर आएंगे और 16 जुलाई को तमिलनाडु के किसान एक बार फिर लौट आए हैं। ज्ञात रहे कि सोमवार से संसद का मानसूत्र शुरू होने वाला है। इसके अलावा प्रदर्शनकारी किसानों की मांग है कि देश के सभी किसानों को पेंशन दी जाए और उच्च लाभांश मिले. साथ ही कावेरी वॉटर मैनेजमेंट बोर्ड बनाया जाए।

loading...
शेयर करें