शिक्षक (Teacher) ने हैवानियत की सभी हदें की पार, एक बालक के साथ किया ऐसा…

उत्तर प्रदेश के जौनपुर जिले में ट्यूशन पढ़ाने वाले शिक्षक ने बालक की गला घोंटकर हत्या कर दी है।

जौनपुर: कहा जाता है कि एक शिक्षक (Teacher) माता-पिता की तरह होता है। और वो अपने छात्रों को सीधे राह पर चलने की सीख देता है। लेकिन कभी कभी कुछ शिक्षक हैवान बन जाते हैं। और वह अपनी सभी हैवानियत को पार कर जाते हैं। ऐसा ही एक मामला उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) जिले जौनपुर (Jaunpur) से आया है। जहां ट्यूशन पढ़ाने वाले शिक्षक ने बालक की हत्या कर दी। हालांकि पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार (Arrest) कर लिया है। और पूरे मामले की जांच में जुट गई है।

क्या है पूरा मामला?

पुलिस (Police) के मुताबिक शाहगंज कोतवाली इलाके में पैथोलॉजी संचालक दीपचंद यादव का 7 साल का बेटा अभिषेक शनिवार को रोज की तरह सुबह करीब 10 बजे घर से कुछ ही दूरी पर ट्यूशन पढ़ने गया था। उसी बीच ट्यूशन पढ़ाने वाला ITI का छात्र शिवम कुमार श्रीवास्तव ने उसे बाइक पर बैठा लिया और अपहरण करके जमुनिया पानी टंकी पर ले गया।

अपहरण करने का बाद बच्चे ने जब शोर-शराबा करना शुरु किया। तो उसने अपने साथी आकाश के साथ मिलकर बालक की मफलर से गला घोंट कर हत्या कर दी। हत्या करने के हत्यारों ने एक युवक का मोबाइल छीनकर पहले उसके पिता से बालक की रिहाई के लिए 7 लाख रुपये की फिरौती की मांग की और बाद में मोबाइल बेच दिया। और पुलिस से बचने के लिए एक नया फोन खरीद लिया।

इस पूरे मामले में पुलिस का कहना है कि बालक का अपहरण कर हत्या करने वाले दो आरोपी शिवम कुमार श्रीवास्तव और आकाश को गिरफ्तार कर लिया गया है और उन्हें जेल भेज दिया गया है। लेकिन अभी यह नहीं साफ हो पाया है कि किन कारणों से उसकी हत्या की है। पुलिस इस पूरे मामले की गहनता से जांच कर रही है।

Related Articles