आईसीसी वर्ल्ड कप में सबसे अधिक जीत के रिकॉर्ड से एक कदम दूर टीम इंडिया

0

विश्वकप क्रिकेट में लगातार सबसे अधिक जीत के रिकॉर्ड (ग्रुप स्टेज में) से टीम इंडिया एक कदम दूर है। गुरुवार को वेस्ट इंडीज पर 125 रनों की शानदार जीत के बाद भारत लीग मैच में लगातार पांच जीत दर्ज कर चुका है। इससे पहले 2015 में भारत ने ग्रुप स्टेज के सभी छह मैच जीतकर कीर्तिमान रचा था। अगर भारत दो जुलाई को इंग्लैंड से अपना अगला मैच जीत लेता है तो इस रिकॉर्ड की बराबरी कर लेगा।

टीम इंडिया इस विश्वकप में छह मैच खेलकर पांच में जीत दर्ज कर चुका है, जबकि न्यूजीलैंड के साथ होने वाला मैच रद्द हो गया था। ऐसे में भारत के पास छह मैचों में 11 अंक हैं। भारत का अगला मुकाबला इंग्लैंड से है। वहीं आठवां मुकाबला दो जुलाई को बांग्लादेश और नौंवां श्रीलंका से है। भारत अगर ये तीनों मुकाबले जीतता है तो विश्वकप में पहली बार ग्रुप स्टेज में लगातार आठ मुकाबले जीतने का कीर्तिमान बनाएगा। वहीं इंग्लैंड को हराने की स्थिति में 2015 के ग्रुप स्टेज में जीते गए लगातार छह मैचों की बराबरी कर लेगा। वहीं बांग्लादेश को हराने की स्थिति में लगातार सात जीत दर्ज कर विश्वकप में नई ईबारत लिख देगा।

अब तक भारत विश्वकप में महज एक बार लगातार छह मुकाबले अपने नाम कर चुका है। यह कारनामा टीम इंडिया ने 2015 में किया था। वहीं ग्रुप स्टेज और अन्य मुकाबलों के लिहाज से भारत ने 2003 में लगातार आठ मुकाबले जीते हैं। इससे पहले और बाद में भारत कभी भी लगातार आठ मुकाबले नहीं जीता है।

विश्वकप 1979 में एक भी मैच नहीं जीत पाया था भारत

भारत के लिए सबसे खराब विश्वकप 1979 का था। इस टूर्नामेंट में भारत एक भी मुकाबला नहीं जीत पाया था। वहीं पहले विश्वकप 1975 में भारत ने तीन मुकाबले में से एक में जीत दर्ज की थी। 1983 में भारत ने शानदार प्रदर्शन करते हुए आठ मुकाबलों में से से छह में जीत दर्ज की, लेकिन लगातार चार जीत दर्ज कर पाई थी। इसमें दो ग्रुप स्टेज के मुकाबलों के साथ सेमीफाइनल और फाइनल के मुकाबले भी शामिल थे। 1987 में सेमीफाइनलिस्ट रहे भारत को 7 में से पांच में जीत मिली थी,  लेकिन यह भी लगातार जीत नहीं थी।

2003 में सबसे अधिक 9 मैचों में जीत मिली, पर ग्रुप स्टेज में लगातार चार मैच ही जीते

वर्ष 2003 विश्वकप में भारतीय टीम ने 11 मैचों में से नौ में जीत दर्ज की, लेकिन ग्रुप स्टेज में लगातार चार मैच ही जीत पाए। इस विश्वकप में भारतीय टीम उपविजेता बनी थी।  हालांकि ग्रुप स्टेज व अन्य मुकाबलों में लगातार जीत के लिहाज से इस टूर्नामेंट में भारतीय टीम ने लगातार आठ मुकाबले जीते, जिसमें ग्रुप स्टेज के चार,  सुपर सिक्स के तीन और सेमीफाइनल की जीत शामिल है। 2011 विश्वकप में टीम इंडिया ने नौ मुकाबलों में सात में जीत मिली, इस टूर्नामेंट में भी भारत ने ग्रुप स्टेज व अन्य चार लगातार मुकाबलों का विजेता बना।

loading...
शेयर करें