IPL
IPL

इस साल प्याज़ के दाम नहीं निकाल सकेंगे आंसू, सरकार ने लिया बड़ा फैसला

प्याज की पैदावार बम्पर होने वाली है और आवक भी जोर पकड़ने लगी है। इसी को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है कि आम जनता को ऑफ सीज़न में मंहगे प्याज से बचाया जा सके।

नई दिल्ली: देश में बढ़ती मंहगाई ने आम जनता की कमर तोड़ रखी है, एक तरफ पेट्रोल डीज़ल तो दूसरी तरफ घरेलू गैस लेकिन इन सभी को ध्यान में रखते हुए सरकार आम जनता को राहत देने के लिए प्याज के दामों पर लगाम लगाने के लिए इस सीज़न में प्याज का दो लाख टन का रिकॉर्ड बफर स्टॉक बनाने जा रही है। जिससे ऑफ सीज़न में सप्लाई का टोटा न पड़े और दाम को काबू में रखा जा सके।

आपको बतादे की इस साल प्याज की पैदावार बम्पर होने वाली है और आवक भी जोर पकड़ने लगी है। इसी को देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है कि आम जनता को ऑफ सीज़न में मंहगे प्याज से बचाया जा सके। केंद्र सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया है कि इस साल प्याज का रिकॉर्ड बफर स्टॉक बनाने का मकसद किसानों को अच्छा दाम दिलाने के साथ-साथ उपभोक्ताओं का भी ख्याल रखना है। सरकारी अधिकारीयों का कहना है की इस सीज़न प्याज की पर्याप्त उपलब्धता रहने से कीमतों पर नियंत्रण बना रहेगा।

प्याज की सरकारी खरीद पहले सिर्फ तीन प्रदेशों से की जाती थी, लेकिन इस साल सरकार ने चार और राज्यों से प्याज खरीदने की योजना बनाई है। भारत सरकार की नोडल खरीद एजेंसी National Agricultural Co-operative Marketing Federation of India यानी नैफेड इस साल दक्षिण भारत के चार प्रमुख राज्य तमिलनाडु, कर्नाटक, आंधप्रदेश और तेलंगाना से भी प्याज खरीदेगी। प्याज की महंगाई पर Managing Director of NAFED संजीव चड्ढा ने कहा, “प्याज के दाम को पिछले साल भी हमने जल्द ही काबू कर लिया था और इस साल पहले से ही तैयारी है, इसलिए इस साल दाम बेकाबू होने की कोई गुंजाइश नहीं होगी।”

यह भी पढ़े: Kolkata Fire: जांच के लिए रेलवे द्वारा उच्च स्तरीय टीम का गठन, ADG ने कही ये बात

Related Articles

Back to top button