Techno-king ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को पछाड़ जीती ऐतिहासिक डील।

वाशिंगटन : अगले तीन साल में स्पेस एक्सप्लोरेशन की दुनिया में एक नया रिकॉर्ड कायम होने वाला है। अगर कोई गड़बड़ न हुई तो साल 2024 में पहली बार एक महिला और अश्वेत शख्स अपने कदम चांद के फर्श पर रखेंगे। असल में मसला यह है की नासा ने अपने अर्टेमिस प्रोग्राम के तहत चांद को एक्सप्लोर करने के लिए एस्ट्रोनॉट्स को चांद पर भेजने पर काम कर रहा है। इस में इस्तेमाल होने वाला कॉमर्शियल ह्यूमन लैंडर एलोन मस्क (Techno-king) की स्पेस एक्स डेवलप करेगी।

Techno-king की स्पेस एक्स अब करेगी टेस्ट फ्लाइट पर काम

नासा ने स्पेसएक्स के साथ इस स्पेसक्राफ्ट को बनाने के लिए 289 करोड़ डॉलर का करार किया है। नासा के साथ करार होने के बाद मस्क ने ट्विटर पर ‘नासा रूल्स’ का ट्वीट किया। नासा ने अपोलो प्रोग्राम के बाद से पहली बार चांद की धरती पर किसी इंसान को ले जाने के लिए मस्क की स्टारशिप को चुना है। जानकारों की माने तो करार की इस दौड़ में मस्क के अलावा दुनिया के सबसे अमीर शख्स और Amazon के मालिक Jeff Bezos भी थे , जिन्हें मस्क ने पछाड़ दिया है। जहाँ इस डील के लिए मस्क ने अकेले बिड लगाई थी वहीँ बेजॉस की ब्लू ओरिजिन ने लॉकहेड मार्टिन कॉरपोरेशन, नॉर्थ्रोप ग्रूमैन कॉरपोरेशन और ड्रेपर डाईनेटिक्स के साथ मिलकर बोली लगाई थी।

कॉन्ट्रैक्ट के बाद अब स्पेसएक्स को एस्ट्रोनॉट्स ले जाने से पहले चांद तक की लैंडर की एक टेस्ट फ्लाइट करनी होगी। इस टेस्ट फ्लाइट के सफल होने पर ही इसमें एस्ट्रोनॉट्स को सवार किया जाएगा।

यह भी पढ़ें : मोदी सरकार के Central minister ने बेड के लिए ट्वीट करके मांगी मदद, अब दी ये सफाई

Related Articles