तेज प्रताप सिंह ने बताई पार्टी नेताओ के डर की ये वजह, बोले खुद को लालू पार्ट 2

0

मंगलवार को अपनी बहन मीसा भारती के लिए चुनाव प्रचार करने के लिए पाटलिपुत्र संसदीय क्षेत्र का दौरा करने पहुचे लालू प्रसाद के बड़े बेटे और आरजेडी नेता तेज प्रताप यादव. बता दें कि मीसा भारती पाटलिपुत्र से बीजेपी के रामकृपाल यादव के खिलाफ चुनाव लड़ रही हैं.

पटना से निकलते समय तेज प्रताप यादव ने मीडिया के सामने अपनी बहन के समर्थन में सबसे पहले शंखनाद किया और फिर मनेर विधानसभा क्षेत्र के छिथनवां गांव पहुंचे. वहां पर तेज प्रताप यादव ने सबसे पहले भगत सिंह की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया.

इसके बाद अन्य गांवों का दौरा करते हुए तेज प्रताप यादव मिर्चिया बाबा के मंदिर पहुंचे जहां पर उनके पिता लालू प्रसाद और मीसा भारती भी आया करते हैं. जनसंपर्क के दौरान तेज प्रताप यादव एक चाय की दुकान पर रुके. उन्होंने वहां एक चौकी पर बैठकर आजतक से खास बातचीत की.

आजतक से इंटरव्यू के दौरान तेज प्रताप यादव ने कहा कि वह अपने पिता लालू प्रसाद की तरह गर्म मिजाज के हैं, जबकि उनका छोटा भाई तेजस्वी राबड़ी देवी की तरह नरम स्वभाव का है.

तेज प्रताप ने कहा कि तेजस्वी के साथ उनका कोई मतभेद नहीं है, लेकिन इस बात की वे हमेशा से वकालत कर रहे हैं कि जहानाबाद और शिवहर लोकसभा सीट से ऐसे उम्मीदवार को टिकट देना चाहिए था जो जमीन से जुड़े हों और स्थानीय हों, लेकिन उनकी बात नहीं मानी गई है.

तेज प्रताप ने लालू राबड़ी मोर्चा नाम से एक राजनीतिक फ्रंट की शुरुआत करने को लेकर कहा कि यह मोर्चा आरजेडी के खिलाफ काम नहीं करेगा, बल्कि यह आरजेडी की ही एक अलग इकाई है. इंटरव्यू के दौरान तेज प्रताप ने कहा कि मेरी पार्टी के कई नेता मुझसे इसलिए डरते हैं, क्योंकि उन्हें लगता है कि दूसरा लालू यादव आ गया है.

loading...
शेयर करें