तेजस्वी ने मुंगेर के डीएम और एसपी को तत्काल हटाये जाने की मांग की , कहा न्यायाधीश की निगरानी में हो जांच

किसी अधिकारी का नाम लिए बिना कहा कि मुंगेर में एक अधिकारी को ‘जनरल डायर’ होने की अनुमति किसने दी। वहां की पुलिस अधीक्षक सत्तारूढ़ दल के बड़े नेता की पुत्री हैं।

पटना: बिहार में राष्ट्रीय जनता दल (राजद) नीत महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के दावेदार तेजस्वी प्रसाद यादव ने पिछले दिनों मुंगेर में पुलिस की बर्बर कार्रवाई पर कड़ी नाराजगी जताते हुए वहां के जिलाधिकारी (डीएम) और पुलिस अधीक्षक (एसपी) को तत्काल हटाने के साथ मामले की उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में जांच कराए जाने की मांग की है।

मुंगेर की घटना साधारण नहीं

राजद नेता यादव ने महागठबंधन के घटक कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव रणदीप सुरजेवाला और वामपंथी दलों के नेताओं की मौजूदगी में आयोजित संवाददाता सम्मेलन में यहां कहा कि मुंगेर में जिस तरह की घटना हुई है, वह साधारण नहीं है। इस मामले में मुंगेर के जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक को तत्काल हटाया जाना चाहिए।

पूरा मामला न्यायाधीश की निगरानी में

प्रतिपक्ष के नेता ने पूरे मामले की उच्च न्यायालय के न्यायाधीश की निगरानी में जांच कराए जाने की मांग की । उन्होंने किसी अधिकारी का नाम लिए बिना कहा कि मुंगेर में एक अधिकारी को ‘जनरल डायर’ (जालियावाला बाग में देश के लोगों पर फायरिंग की अनुमति देने वाला अंग्रेज अधिकारी) होने की अनुमति किसने दी। वहां की पुलिस अधीक्षक सत्तारूढ़ दल के बड़े नेता की पुत्री हैं

यह भी पढ़ें:बिहार में 71 विधानसभा सीट के लिए मतदान हुए शुरू, 1066 उम्मीदवारों के भाग्य का होगा फैसला

यह भी पढ़ें: फ्रां के खिलाफ बांग्लादेश में भड़का गुस्सा, फ्रेंच उत्पादों के बहिष्कार के समर्थन में उतरे लोग

Related Articles

Back to top button