तेजस्वी ने सीएम के खिलाफ पोस्टर लगाकर दिया नारा- ‘पूछ रहा सारा बिहार, कहां छिपे हो नीतीश कुमार’

पटना: बिहार की राजनीति इन दिनों अलग-अलग रंग ले रही है. बिहार विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान होना बाकी है, लेकिन उससे पहले सरगर्मियां अपने चरम पर हैं. आरजेडी ने नया मास्टरस्ट्रोक खेलते हुए आज नए पोस्टर का अनावरण किया. आरजेडी दफ्तर के बाहर लगे इस पोस्टर का अनावरण करने खुद पार्टी के शीर्ष नेता और पूर्व उप-मुख्यमंत्री तेजस्वी यादव पहुंचे.

पूछ रहा सारा बिहार, कहां छिपे हो नीतीश कुमार

पोस्टर के जरिए सीएम नीतीश कुमार से आरजेडी ने सवाल किया है कि वह पिछले 90 दिनों से जनता के बीच क्यों नहीं हैं. इस पोस्टर में आरजेडी ने बाकायदा 90×24 = 2160 घंटे का जिक्र किया है और साथ में ये भी दिखाया है कि इतने दिनों तक लोगों के बीच न रह कर सीएम ने सिर्फ आराम किया, जबकि दूसरी तरफ बिहार के मजदूरों-गरीबों को चोर बता दिया गया.

तेजस्वी यादव के मुताबिक, इस पोस्टर को हर जिले के हर ब्लॉक में लगाया गया है. तेजस्वी ने कहा, “आज 90 दिनों बाद भी सीएम गायब हैं. कोरोना को लेकर कोई ध्यान नहीं है सरकार का. गरीब-मजदूर पर ध्यान नहीं. सभी को भगवान भरोसे छोड़ दिया गया है. क्या सीएम नहीं जानते कि 12.5 करोड़ की आबादी में इतनी धीमी टेस्टिंग हो रही है. क्या सीएम बताएंगे कि ऐसा क्यों हो रहा है है? क्या सारा ध्यान चुनाव पर है?”

सीएम लाशों के ढेर पर चुनाव कराएंगे 

मीडिया से बातचीत में तेजस्वी ने न सिर्फ बिहार में धीमी टेस्टिंग पर सवाल उठाए बल्कि चुनाव की तैयारियों पर भी सरकार को घेरा. उन्होंने कहा कि पेपर पर स्क्रीनिंग है 10 करोड़ की जिनमें से करीब 4 लाख के लक्षण पाए गए तो क्या सबकी टेस्टिंग हुई.

तेजस्वी ने आरोप लगाते हुए कहा, “क्या सीएम को नहीं पता है ये सब. करीब 30 लाख लोग दूसरे प्रदेश से बिहार आए. क्या उनकी स्क्रीनिंग हुई? उन्हें रोज़गार भी देना है. सुप्रीम कोर्ट का ऑर्डर है कि जितने आयें है रोजगार देना है. कितनों का कैंप लगाकर स्किल मैपिंग किया गया? सीएम जब घर पर ही रहेंगे तो सब गुलज़ार ही लगेगा. कुछ ही दूरी पर एनएमसीएच है जाकर देखें कि कितने वेंटिलेटर हैं. क्या सीएम लाशों की ढेर पर चुनाव कराएँगे.”

तेजस्वी ने साथ ही कहा कि प्रदेश में संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है फिर भी राज्य में सबसे धीमे काम हो रहा है. उन्होंने नीतीश से सवाल पूछते हुए कहा कि इन विषयों पर बात करें और बताएं कि निपटने की तैयारी कैसे करेंगे.

जनता से मिलने नहीं निकले CM, तो आरजेडी ढोल पिटवाएगी

तेजस्वी ने बिहार सरकार की कोरोना से निपटने की तैयारियों पर सवाल खड़े करते हुए कहा, “एक कोविड अस्पताल है एनएमसीएच और वहां भी बारिश में पानी भर रहा है. इस स्थिति में चुनाव कैसे होगा.” उन्होंने आगे कहा कि 100 दिनों तक भी सीएम नहीं निकलेंगे या लोगों के बीच नहीं निकलेंगे तो आरजेडी गांव-गांव में ढोल पिटवाएगी.

इससे पहले आरजेडी गरीब अधिकार दिवस मना चुकी है जिसमें आरजेडी कार्यकर्ताओं और समर्थकों ने तेजस्वी के नेतृत्व में पूरे प्रदेश में थाली बजाई गई थी. तेजस्वी ने कहा कि बिहार का सीएम आखिर कहां गायब है. क्या स्थिति है कि बाकी प्रदेश के सीएम निकल रहे हैं. उन्होंने कहा कि सीएम अगर डरते हैं और इसी डर से नहीं निकले हैं तो लोगों के साथ खेल रहे हैं. लोगों को मरने के लिए क्यों छोड़ दिया उन्होंने.

तेजस्वी ने चेताते हुए ये भी कहा कि ये स्थिति रही तो बिहार फिर से खड़ा नहीं हो पाएगा. हालांकि जब तेजस्वी से सवाल पूछा गया कि क्या आरजेडी अभी चुनाव नहीं चाहती है, तो उन्होंने इसका कोई स्पष्ट जवाब नहीं दिया और कहा कि अभी इंतजार करना चाहिए. तेजस्वी के इस बयान से कई कयास लगाए जा रहे हैं कि क्या इस स्थिति में नहला पर दहला करते हुए तेजस्वी और आरजेडी अभी चुनाव के पक्ष में नहीं हैं या किसी नई रणनीति की तैयारी में हैं.

Related Articles