प्रशासन से इजाजत नहीं मिलने के बावजूद धरने पर बैठे तेजस्वी यादव

पटना: कृषि कानून में सुधार को लेकर देशभर के किसान प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी क्रम में किसानों को सपोर्ट करने के लिए कई राज्य भी सामने आ गए हैं। जिसको लेकर तेजस्वी यादव बिना प्रशासन की इजाजत के बगैर पटना में गांधी मैदान स्थित महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने विपक्ष के नेताओं के साथ धरना दिया।

धरना की पहले से अनुमति नहीं लिए जाने के कारण प्रशासन ने जब इजाजत नहीं दी तब तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर चुनौती देते हुए कहा, “गोडसे को पूजने वाले लोग पटना पधारे हैं। उनके स्वागत में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने पटना के गांधी मैदान में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की मूर्ति को कैद कर लिया है। ताकि गांधी को मानने वाले लोग किसानों के समर्थन में गांधी जी के समक्ष संकल्प ना ले सके। नीतीश जी, वहां पहुंच रहा हूं। रोक सको तो रोक लीजिए।”

इसके बाद तेजस्वी यादव राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ गांधी मैदान पहुंच गए। और गांधी मैदान के गेट नंबर चार के बाहर धरना पर बैठकर नारेबाजी करने लगे। जिसके बाद प्रशासन ने गांधी मैदान का छोटा गेट खोल दिया। इसके बाद तेजस्‍वी यादव अन्य नेताओं और कार्यकर्ताओं के साथ गांधी मूर्ति के पास पहुंचे और किसानों की लड़ाई लड़ने के लिए अपना संकल्‍प पत्र पढ़ा।

यह भी पढ़ें: कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष ने किया बड़ा दावा, कहा- ‘पंचायत चुनाव में कांग्रेस की होगी जीत’

Related Articles