तेलंगाना के मुख्यमंत्री ने दिया इस्तीफा, विधानसभा भंग करने की सिफारिश को मिली मंजूरी

0

नई दिल्ली। तेलंगाना के मुख्यमंत्री चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने गुरुवार यानी छह सितंबर को छह बजकर 45 मिनट पर मंत्रिमंडल की बैठक बुलाई है। इस आपात बैठक राज्य विधानसभा को भंग करने की सिफारिश की गई। ताकि साल के आखिर में चार राज्यों के साथ चुनाव कराया जा सके। बैठक के बाद मुख्यमंत्री केसीआर ने राज्यपाल इएसएल नरसिम्हन से मुलाकात कर विधानसभा भंग करने का प्रस्ताव सौंपा जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया।

दरअसल, केसीआर चाहते हैं कि साल के अंत में 4 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनाव के साथ उनके राज्य में भी चुनाव कराए जाएं। इसके लिए वह समयपूर्व विधानसभा भंग कराने का फैसला लेने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि तेलंगाना राज्य का गठन होने के बाद 2014 आम चुनाव के साथ ही तेलंगाना में विधानसभा चुनाव हुए थे। तेलंगाना के साथ ही आंध्र प्रदेश में भी विधानसभा चुनाव हुए थे।

बता दें कि पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ने दिल्ली जाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की थी। इसके बाद से ही राज्य में समय पूर्व चुनाव के कयास लगने शुरू हो गए थे।सूत्र बता रहे हैं कि बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने भी तेलंगाना के बीजेपी नेताओं को बता दिया है कि साल के आखिर में अगर विधानसभा चुनाव हों तो उसके मद्देनजर तैयार रहें।

LIVE UPDATES-

1.मुख्यमंत्री ने विधानसभा भंग करने संबंधित प्रस्ताव को राज्यपाल को सौंप दिया जिसे उन्होंने स्वीकार कर लिया। इसके बाद राज्यपाल ने केसीआर को सरकार का केयरटेकर नियुक्त किया।

2.मंत्रिमंडल की बैठक के बाद केसीआर ने राजभवन पहुंच कर राज्यपाल इएसएल नरसिम्हन से मुलाकात की।

3.तेलंगाना राष्ट्र समिति के आधिकारिट ट्विटर हैंडल के मुताबिक मुख्यमंत्री केसीआर 2.30 बजे पार्टी कार्यालय तलंगाना भवन में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करेंगे।

3.हालांकि रास्ते में सीएम को कुछ प्रदर्शनकारियों के विरोध का सामना करना पड़ा। प्रदर्शनकारी मुख्यमंत्री कार्यालय के सामने धरना दे रहे हैं। प्रदर्शनकारी नौकरियों में नियमित किए जाने की मांग कर रहे हैं।

4.मुख्यमंत्री के चंद्रचेखर राव ने कैबिनेट की बैठक ली। जिसमें विधानसभा को भंग करने का फैसला लिया गया। मुख्यमंत्री अभी राजभवन की तरफ जा रहे हैं।

 

loading...
शेयर करें