टेलीकॉम कंपनियां बना रही है बड़ा प्लान, मोबाइल पर बात करना नहीं होगा आसान

नई दिल्ली: पेट्रोल-डीजल व गैस के दामों में हुए इजाफे के बाद अब टेलीकॉम कंपनियां आने वाले महीनों में टैरिफ प्लान को महंगा कर सकती हैं। टैरिफ प्लान में बढ़ोतरी के बाद ग्राहक को मोबाइल (Mobile) पर बात करना और इंटरनेट इस्तेमाल करना महंगा पड़ने वाला है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, 1 अप्रैल से टेलीकॉम कंपनियां अपनी दरों में वृद्धि करने की तैयारी कर रही हैं। दरों में वृद्धि होने के बाद मोबाइल (Mobile) पर बात करना महंगा पड़ सकता है।

कीमतों में हो सकता है इजाफा

इन्वेस्टमेंट इनफार्मेशन एंड क्रेडिट रेटिंग एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक, 1 अप्रैल से वित्त वर्ष 2021-22 शुरू होने वाला है और वित्त वर्ष में टेलीकॉम कंपनियां अपने रेवेन्यू को बढ़ाकर एक बार फिर टैरिफ को महंगा कर सकती हैं। हालांकि आने वाले समय में इनकी कीमतों में कितना इजाफा होगा अभी तक इसको लेकर कोई खुलासा नहीं किया गया है।

ये भी पढ़ें : जैसलमेर में बच्चन पांडे की शूटिंग करते नजर आए अक्षय कुमार, कृति सेनन

राजस्व में हो सकता है सुधार

ICRA ने बताया है कि 1 अप्रैल से अगर टैरिफ में बढ़ोतरी होती है तो ग्राहकों का 2G से 4G में अपग्रेडेशन से एवरेज रेवेन्यू पर प्रति ग्राहक औसत राजस्व में सुधार हो सकता है। साल के बीच तक यह लगभग 220 रुपये हो सकता है। इससे अगले 2 साल में इंडस्ट्री का रेवेन्यू 11% से 13% और वित्त वर्ष 2022 में आपरेटिंग मार्जिन करीब 38% बढ़ेगा। टेलीकॉम इंडस्ट्री पर कोरोना महामारी के दौरान ज्यादा असर नहीं पड़ा। लॉकडाउन में डाटा यूजेज और टैरिफ में बढ़ोतरी के कारण स्थिति में सुधार हुआ।

ये भी पढ़ें : उन्नाव: जंगल में संदिग्ध हालत में मिली तीन युवतियां, दो की मौत एक की हालत नाजुक

Related Articles

Back to top button