भारत-चीन सीमा पर तनाव, दोनों देशों के कमांडर होंगे आमने-सामने

भारत और चीन के सीमा पर लंबे समय से तनाव का माहौल बना हुआ है। दोनों देशों के सीमाओं पर भारी संख्या में सैनिक तैनात है ताकि कोई अनहोनी ना हो।

नई दिल्ली: भारत और चीन के सीमा पर लंबे समय से तनाव का माहौल बना हुआ है। दोनों देशों के सीमाओं पर भारी संख्या में सैनिक तैनात है ताकि कोई अनहोनी ना हो।

लगभग ढ़ाई महीने बाद रविवार को फिर से भारत और चीन के बीच बैठक होगी। बताया जा रहा है कि यह बैठक लद्दाख में LAC ( Line of Actual Control ) पर तनाव को लेकर दोनों देशों के मिलिट्री कमांडर के बीच होगी। मई 2020 से ही हजारों सैनिक सीमा पर आमने-सामने खड़े हैं।

बता दे कि XIV कॉर्प्स कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल पीजीके मेनन ( Lieutenant General PGK Menon ) और दक्षिण शिंजियांग मिलिस्ट्री क्षेत्र के कमांडर मेजर जनरल लियू लिन ( Major General Liu Lin  ) के बीच ये बैठक होगी।

दो चीनी सौनिक भारतीय सीमा में

भारत की तरफ से चीन को मेमों भेजे गए थे जिसका जबाव आते ही इस बैठक की तैयारी की गई। हाल ही में दो चीनी सैनिक रास्ता भटक कर भारतीय सीमा में आ गए थे। जिन्हें भारतीय सैनिकों ने सही सलामत सीमा पार पहुंचा दिया।

इस तनाव की शुरुआत मई में हुई थी जब चीनी सैनिकों ने भारतीय सीमा के LAC से लगभग 8 किलोमीटर अन्दर आ गए थे और पूर्वी लद्दाख में कई जगह तंबू लगाकर कब्जा करने की कोशिश कर रहें थे।

इस पर भारत की ओर से आपत्ति जताने के बाद भी चीनी सैनिकों ने पीछे हटने का नाम नही लिया। जिसकी वजह से दोनों ही देशों की सेनाओं ने अतिरिक्त सैन्य बल सीमा पर तैनात कर दिया और हमला करने की भी पूरी तैयारी सीमा पर होने लगी।

यह भी पढ़ें: नौकरी की तलाश खत्म, Lok Sabha सचिवालय में वैकेंसी, Salary होगी 90 हजार

Related Articles

Back to top button