अलगाववादी नेता गिलानी के आए बुरे दिन, कई सौ करोड़ की प्रॉपर्टी पर पड़ी NIA की नज़र

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर में अलगाववादी नेताओं की मुसीबतें थमने का नाम नहीं ले रही है। मोदी सरकार अब सख्ती के मूड में लग रही है। एनआईए का शिकंजा दिन पर दिन अलगाववादी नेताओं पर कसता जा रहा है।

गिलानी

पाकिस्तान से फंडिंग मामले में एनआईए अलगाववादी संगठन हुर्रियत कांफ्रेंस (गिलानी) के शीर्ष सात नेताओं द्वारा आतंकियों की आर्थिक मदद करने के मामले की जांच कर रहा है। अब एनआईए ने हुर्रियत के प्रमुख सैयद अली शाह गिलानी पर नज़र टेढ़ी कर ली है।

अगली स्लाइड में पढ़ें, गिलानी पर आई बड़ी मुसीबत

1 2 3Next page

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button