12 साल के छात्र को उसी के सीनियर्स ने बल्ले से पीट-पीटकर मार डाला, जानिए उसके शव के साथ क्या किया

0

उत्तराखंड की राजधानी देहरादून के एक बोर्डिंग स्कूल में एक 12 साल के बच्चे की निर्मम हत्या का मामला सामने आया है. दरअसल, देहरादून के एक बोर्डिंग स्कूल में 12 साल के वासु यादव को उसके दो सीनियर्स ने बैट और विकेट से बुरी तरह पीट-पीट कर मार डाला. हमला करने वाले दोनों छात्र बारहवीं क्लास के हैं. यह घटना 10 मार्च की है. इसके अलावा स्कूल प्रशासन ने भी इस मामले को छिपाने की कोशिश की और अभिभावकों को बिना बताए बच्चे को स्कूल परिसर में ही दफना दिया.

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, यह पूरा विवाद बिस्कुट के एक पैकेट को लेकर शुरू हुआ था. दरअसल, सीनियर्स ने आउटिंग के दौरान वासु द्वारा बिस्कुट का पैकेट चुराने का आरोप लगाया था. इसे देखते हुए स्कूल प्रशासन ने सभी छात्रों को कैंपस से बाहर जाने पर रोक लगा दी थी. सीनियर्स ने वासु को बेरहमी से पीटने के साथ-साथ उसे ठंडे पानी से नहलाया और उसे गंदा पानी पीने को दिया. वासु को बुरी तरह पीटने और उसके साथ इस तरह की हैवानियत करने के बाद सीनियर्स उसे वहीं छोड़कर चले गए.

घंटों बाद होस्टल वार्डन की नजर वासु पर पड़ी. हालांकि देहरादून की एसएसपी निवेदिता ने बताया कि स्कूल प्रशासन ने वासु को काफी देर बाद अस्पताल पहुंचाया. इस कारण उसकी मौत हो गई. स्कूल के कर्मचारियों ने मामले को छिपाने की कोशिश की और पुलिस में रिपोर्ट तक नहीं कराया. वासु को दोपहर के वक्त बेरहमी से पीटा गया और उसे देर शाम को अस्पताल ले जाया गया.

रिपोर्ट के मुताबिक, स्कूल प्रशासन ने बिना पोस्टमार्टम कराए वासु के शव को स्कूल परिसर में ही दफना दिया. हालांकि इस मामले में पुलिस के हस्तक्षेप के बाद शव को निकाला गया और उसका पोस्टमार्टम कराया गया. फिलहाल इस मामले में पुलिस ने दोनों सीनियर्स और स्कूल के तीन कर्मचारियों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है.

loading...
शेयर करें