चलती ट्रेन में गैंगरेप का शिकार हुई 19 साल की लड़की, दो दिन बाद उठाया ये खौफनाक कदम

0

नई दिल्ली। देश की महिलाएं कहीं भी सुरक्षित नहीं हैं। हाल ही में 19 साल की लड़की के साथ तीन लोगों ने मिलकर चलती ट्रेन में गैंगरेप किया। इस हादसे से आहत पीड़िता ने जहर खाकर खुदकुशी कर ली। हालांकि वक्त पर अस्पताल पहुंचने की वजह से उसी जान बचा ली गई है लेकिन पीड़िता अभी भी सदमे में है।

चलती ट्रेन में गैंगरेप

ये घटना 6 फरवरी की है, जब दिल्ली से आ रही आनंद विहार-रांची एक्सप्रेस में मुरी स्टेशन के समीप 19 वर्षीय छात्रा से सामूहिक दुष्कर्म किया गया। तीन अज्ञात युवकों ने एस-3 बोगी में घटना को अंजाम दिया। 8 फरवरी को घटना से आहत छात्रा ने जहर खाकर खुदकशी की कोशिश की। पीड़िता फिलहाल अस्पताल में उपचाराधीन है। सदमे के कारण वह कुछ नहीं कह पा रही थी। अब जाकर उसने किसी तरह हिम्मत जुटाकर मामले का खुलासा किया।

शुक्रवार को पुलिस ने इस संबंध में प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच शुरू कर दी है। एक एसआइटी का भी गठन किया गया है ताकि शीघ्र ही मामले का पर्दाफाश हो और आरोपितों को गिरफ्तार किया जा सके। पीड़ित छात्रा पंजाब के फजिल्का की रहने वाली है। रांची के कडरू स्थित एक संस्थान में पढ़ाई करती है। छात्रा के जहर खाने के बाद उसे गुरुनानक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इसके बाद चुटिया पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने पीड़िता का फर्द बयान लिया और रांची जीआरपी थाने को भेज दिया है। जीआरपी पुलिस ने मामला दर्ज कर इसकी छानबीन शुरू कर दी है।

पीडि़ता ने पुलिस को बताया कि पांच फरवरी को आनंद विहार स्टेशन से रात के दस बजे ट्रेन पर चढ़ी थी। दूसरी रात करीब 12 बजे रांची स्टेशन से पहले मुरी के पास एक युवक आया और उसके मुंह को दबा दिया। इसके बाद अन्य तीन युवकों ने बारी-बारी से दुष्कर्म किया। आरोपियों ने पूरी लाइट बुझा दी थी। संभवत: तब बोगी में अन्य यात्री नहीं थे। दुष्कर्म करने के बाद युवक रांची से पहले ही ट्रेन से उतर गए। पीड़िता ने बताया कि घटना के बाद उसकी दिमागी हालत बिगड़ गई। तनाव में आकर उसने जहर खा लिया।

loading...
शेयर करें