आरोपियों ने पहले किया अपहरण, फिर किया नाबालिग बच्ची के साथ रेप

 

नाबालिक के साथ बलात्कार

राजस्थान: देश भर में अभी तक लड़कियों के साथ बलात्कार के मामले थमे नहीं हैं. यूपी के हाथरस में दलित युवती के साथ गैंगरेप का मामला शांत भी नहीं हो पाया कि राजस्थान के बाड़मेर जिले में भी रेप की घटना ने सबको एक बार फिर से हिला कर रख दिया है. बाड़मेर जिले के शिव थाना क्षेत्र के एक गांव में नाबालिग का अपहरण कर रेप किया गया.

इस घटना को उस समय अंजाम दिया गया, जब उस परिवार के सभी सदस्य मतदान करने के लिए गए थे. परिजनों की रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने पोक्सो एक्ट व आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. पीड़ित और उसके परिजनों से राजकीय हॉस्पिटल में जिला कलेक्टर और जिला पुलिस अधीक्षक मिले और हाल भी जाने.

पुलिस कर रही छानबीन:

पुलिस ने अलग-अलग टीमों का गठन करके आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. पुलिस अधीक्षक के मुताबिक, 15 वर्षीय युवती घर से लापता की रिपोर्ट भियाड़ चौकी को दी गई. तलाश करने पर वह स्कूल के पास अचेत अवस्था में मिली और पुलिस ने प्राथमिक उपचार करवाने के बाद जिला अस्पताल लाया गया.

युवती को होश आने के बाद उसने बताया कि मेरा दो लड़कों ने जबरदस्ती अपहरण कर लिए था. एक लड़के ने मेरे साथ बालात्कार भी किया, और दूसरे ने वीडियो बनाया. अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर अलग-अलग टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी गई.

जिला के कलेक्टर विश्राम मीणा ने कहा कि पंचायती राज चुनाव के तीसरे चरण के मतदान चल रहा था, परिजन सब मतदान देने के लिए गए हुए थे. उस दौरान दो लड़कों ने उस नाबालिग लड़की को उठाकर लेकर गए और उसके साथ बलात्कार की घटना हुई. पुलिस ने मामला दर्ज कर अलग टीमें बनाकर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है. और लोगों से पूछताछ जारी है.

यह भी पढ़े: प्रवर्तन निदेशालय का बड़ा खुलासा, ‘यूपी में जातीय दंगे फ़ैलाने के लिए हुई बड़ी फंडिंग’

Related Articles