विराट और रोहित को लेकर गंभीर और आकाश के बीच छिड़ी जंग

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने टी-20 टीम कप्तानी पांच बार के आईपीएल विजेता रोहित शर्मा को सौंपने की वकालत की है।

नई दिल्ली: भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी गौतम गंभीर ने टी-20 टीम कप्तानी पांच बार के आईपीएल विजेता रोहित शर्मा को सौंपने की वकालत की है। जबकि कमेंटेटर और पूर्व खिलाड़ी आकाश चोपड़ा मौजूदा कप्तान विराट कोहली को ही खेल के तीनों प्रारूपों में कप्तान बनाये रखने के हक में हैं।

पूर्व भारतीय खिलाड़ियों गौतम गंभीर, आकाश चोपड़ा और पार्थिव पटेल ने स्टार स्पोर्ट्स के कार्यक्रम क्रिकेट कनेक्टेड में रोहित और विराट में से कौन बेहतर कप्तान है को लेकर चर्चा की, जिसमें तीनों खिलाड़ियों ने अपनी-अपनी राय व्यक्ति की। इन दिनों दरअसल यह चर्चा बहुत जोरों पर है कि क्या टी-20 की कप्तानी रोहित को सौंप दी जाए। रोहित की कप्तानी में मुंबई इंडियंस ने आईपीएल में अपना पांचवा खिताब जीता है। जबकि विराट की बेंगलुरु टीम प्लेऑफ तक ही पहुंच सकी थी और उनकी कप्तानी में आठ वर्षों में बेंगलुरु एक बार भी खिताब नहीं जीत पाई है।

रोहित को कप्तान बनाने की मांग

गंभीर ने विराट और रोहित में से बेहतर टी-20 कप्तान को लेकर कहा, ‘‘विराट ख़राब कप्तान नहीं है लेकिन यहां चर्चा यह है कि कौन बेहतर कप्तान है और मेरे हिसाब से रोहित ज्यादा अच्छे टी-20 कप्तान है और दोनों की कप्तानी में बहुत बड़ा अंतर हैं।”

विराट को ही बनाए रखने की मांग

वहीं आकाश चोपड़ा ने कहा, ‘‘यह समय बदलाव का नहीं है। अब आपके पास एक नयी टी-20 टीम तैयार करने का समय नहीं है। अगर आप नए सिरे से टीम प्रक्रिया या कुछ नया शुरू करना चाहते हो तो उसके लिए आपके पास खेलने के लिए कई मुकाबले होने चाहिए लेकिन टी-20 विश्व कप से पहले टीम के पास केवल पांच से छह टी-20 मुकाबले ही हैं।”

वहीं कप्तानी को बांटने को लेकर चल रही बहस के बीच हालांकि भारत के पहले विश्व कप विजेता कप्तान और लीजेंड आलराउंडर कपिल देव ने टीम इंडिया के टेस्ट और सीमित ओवरों की कप्तानी बांटने के विचार को सिरे से खारिज करते हुए कहा था कि भारतीय क्रिकेट संस्कृति दो कप्तानों की नहीं है और विराट अगर टी-20 में अच्छा कर रहे हैं तो उन्हें कप्तान बने रहने देना चाहिए।

यह भी पढ़ें: IND vs AUS: भारतीय टीम को तगड़ा झटका, रोहित और इशांत पहले दो टेस्ट से बाहर

Related Articles