IPL
IPL

बाइडन प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम, पहली बार रूस पर लगाया प्रतिबंध, लगाया ये आरोप

वाशिंगटन: अमेरिका में राष्ट्रपति जो बाइडन (Joe Biden) प्रशासन ने रूस में विपक्षी नेता एलेक्स नवेलनी (Alex Navalny) को जहर देने और जेल भेजे जाने के मामले में रूसी सरकार पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा कर दी है। बाइडन ने रूस के अधिकारियों और व्यापारों पर मंगलवार को प्रतिबंध लगा दिया है। जिन अधिकारियों पर प्रतिबंध लगाया गया है उसके बारे में बाइडन (Biden) प्रशासन के वरिष्ठ अफसरों ने पहचान नहीं बताई है। प्रशासन ने अमेरिकी रसायन एवं जैविक शस्त्र नियंत्रण एवं युद्ध उन्मूलन अधिनियम के तहत 14 व्यापार और अन्य उद्यमों पर प्रतिबंध लगाने की घोषणा की है। इनमें से ज्यादातर जैविक रसायन जहर बनाते हैं।

अमेरिकी प्रशासन ने उठाया बड़ा कदम

वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, अमेरिकी खुफिया समुदाय ने निष्कर्ष निकाला है कि रूस की संघीय सुरक्षा सेवा ने अगस्त 2021 में असंतुष्टों पर रूसी नर्व एजेंट (एक तरह का जहर) ‘नोविचोक’ का इस्तेमाल किया है। अमेरिकी प्रशासन ने पहली बार बड़ा कदम उठाते हुए रूस पर प्रतिबंध लगाया हैं। प्रशासन ने रूस के विपक्षी नेताओं पर हमले और अमेरिकी एजेंसियों सहित कारोबारों को हैक करने के मामले में रूसी राष्ट्रपति ब्लादिमीर पुतिन से मुकाबला करने का संकल्प लिया है।

ये भी पढ़ें : जानिए कौन है स्मार्टवॉच की दुनिया का बादशाह

नए प्रतिबंधों की घोषणा

बाइडेन प्रशासन ने यूरोपीय संघ से प्रतिबंधों का प्रबन्ध किया। यूरोपीय संघ पहले ही रूस के कुछ अधिकारियों को नवलनी मामले में प्रतिबंधित किया है। मंगलवार को ईयू ने नए प्रतिबंधों की घोषणा करते हुए नवलनी को जेल भेजने को लेकर रूस के आला अधिकारियों को निशाना बनाया है। इस हमले को अमेरिका और अन्य ने पुतिन की सुरक्षा सेवा से जोड़ा। जर्मनी में इलाज के बाद नवलनी जनवरी में रूस पहुंचे जहां मास्को में उन्हें पेरोल का उल्लंघन करने के आरोप में गिरफ्तार किया।

ये भी पढ़ें : यौन शोषण के आरोपों में घिरे इस मंत्री के खिलाफ कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने किया विरोध प्रदर्शन

Related Articles

Back to top button