केजरीवाल के खिलाफ भाजपा ने उठाया बड़ा कदम, दे डाली नाटक खत्म करने की नसीहत

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने रविवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आरोप लगाया कि वह उपराज्यपाल के आवास पर धरना के जरिए अपनी राजनीतिक महत्वाकांक्षा पूरी करने का नाटक कर रहे हैं। केजरीवाल उपराज्यपाल से आईएएस अधिकारियों को सरकार के साथ असहयोग खत्म करने का निर्देश देने की मांग कर रहे हैं।केजरीवाल को संबोधित एक पत्र में भाजपा की दिल्ली इकाई के नेताओं व आप के बागी नेता कपिल मिश्रा ने कहा, “आप (केजरीवाल) ने अपनी शक्ति के साथ किसी तरह की जिम्मेदारी से पल्ला झाड़ने के लिए सब कुछ किया है।

यह जिम्मेदारी आपके पद को धारण करने से बनती है। इस उम्मीद के साथ आप को पत्र लिख रहे हैं कि आप अपनी नैतिक जिम्मेदारी के प्रति अपनी अंतरात्मा को जागृत करेंगे।” उन्होंने कहा, “मुख्य सचिव (अंशू प्रकाश) को पीटे जाने की घटना के बाद अधिकारियों ने आपके आवास पर आप से मिलने से इनकार कर दिया, जबकि आप अपने दफ्तर से गैरहाजिर रहते हैं।” केजरीवाल, उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया और कैबिनेट मंत्री सत्येंद्र जैन व गोपाल राय उपराज्यपाल अनिल बैजल के कार्यालय में 11 जून से धरना दे रहे हैं।

राजधानी में खराब हवा की गुणवत्ता, जल संकट और वेक्टर बार्न महामारी सहित समस्याओं का जिक्र करते हुए पत्र में कहा गया है कि केजरीवाल का मौजूदा प्रयास अपने शासन की विफलताओं से ध्यान हटाने का है। दिल्ली भाजपा के नेताओं ने शुक्रवार को केजरीवाल के प्रदर्शन के खिलाफ अनिश्चितकालीन अनशन शुरू किया। इसमें दिल्ली के नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता भी शामिल थे। पत्र में कहा गया है, “अपने अनशन के साथ हम आप से (केजरीवाल) व आपके मंत्रियों से राजनीतिक हितों के परे देखने व लोगों के जरूरी आवश्यकताओं को मुहैया कराने के लिए आपसे अपना कर्तव्य निभाने का आग्रह करते हैं।”

Related Articles