एक बार फिर मोहब्बत बनीं आतंकी की मौत का कारण

0

भारत के मोस्ट वांन्टेड आतंकियों में  शामिल अबु दुजाना को सुरक्षा बलों ने कश्‍मीर  के पुनवामा स्थित हकरीपुरा में मंगलवार को हुई मठभेड़ में मार गिराया। सुरक्षा बलों से मिली जानकारी के मुताबिक, दुजाना ने इसी इलाके की एक लड़की को प्यार में धोखा दिया था। जिससे आहत होकर वह लड़की पुलिस की मुखबिर बन गई।कश्‍मीर में आतंकियों की धरपकड़ में सरक्षा बलों के लिए उनकी प्रमिकाएं बहुत अहम कड़ी साबित हो रही हैं।

घाटी में तैनात विभिन्न सुरक्षा एजेंसियों ने 90 के दषक में ही यह रणनीति अपनाई और अब यही रणनीति काम आ रहीं है। मारा गया आतंकी अबु दुजाना पकिस्तान के कब्जे वाले कष्मीर (पीओके) स्थित गिलगित इलाके का रहने वाला था। दुजाना साल 2010 में जम्मू कष्मीर में घुस आया था। अधिकांश ऐसे घुसपैठिये आतंकी दो से तीन वर्षे से अधिक नहीं बचते लेकिन लष्कर का यह आतंकी 7 सालों तक कष्मीर में अपने मंसूबे सक्रिय रखा और राज्य में सुरक्षा बलों पर कई हमले भी किये इसी के चलते इस आतंकी के सिर पर 15 लाख का इनाम भी घोषित किया गया था। अब तक कि मिली जानकारी के मुताबिक इस आतंकी ने हकरीपुरा की ही एक लडकी से ष्षादी की थी और उसी से मिलने गांव आया था।

जम्मू कश्‍मीर पुलिस के आईजी मुनीर खान ने भी एक प्रेस कान्फ्रेंस में दुजाना की अय्य्ााषियों की तरफ इशरा किया था। उन्होने कहा, वह किसी भी घर में घुस जाता था और जो मरजी करता था, और साथ यह भी कहा कि उसका यूं मारा जाना लोगों के लिए राहत की खबर है। हमारी बेटियां, हमारी बहनों को अब राहत है कि अब उन्हे परेशान करने वाला नहीं रहा।  यह पहला मामला नहीं है जब आतंकी की ठुकराई गर्लफ्रेंड उसका काल बनी हो, सुरक्षा बलों की माने तो कष्मीर में पिछले साल 8 जुुलाई को सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ में मारे गए आतंकी हिज्बुल मुजाहिदीन के पोस्टर ब्वाॅय बुरहान बानी की खबर भी उसकी एक प्रमिका ने ही दी थी।

वहीं वर्ष 2013 में सुरक्षा बलों द्वारा सोपोर में मार गिराए गए लश्कर के एक अन्य कमांडर अब्दुल्ला उनी तक पहुंचने में उसकी पत्नी ही कड़ी बनी थीण् उससे पहले लश्कर कमांडर अबु तलहा को भी सुरक्षा बलों 2009 में हनी ट्रैप में फंसा कर श्रीनगर के बाहरी इलाके में मार गिराया था

loading...
शेयर करें