एम्स चाहिए तो गोरखपुर-महराजगंज मार्ग को फोरलेन करो

0

गोरखपुर। पूर्वांचल के गोरखपुर में एम्स की स्थापना की असल अड़चन खुलकर सामने आ गई है। भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने आज दोपहर बाद एक पत्रकारवार्ता में केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री का पत्र बांटा। पत्र में केन्द्र सरकार ने स्पष्ट संकेत दिया है कि अगर गोरखपुर के खुटहन में एम्स चाहिये तो यूपी सरकार गोरखपुर-महराजगंज मार्ग को फोरलेन करे। अगर यह संभव नहीं है तो किसी दूसरे स्थान का प्रस्ताव किया जाए।

भाजपा सांसद योगी आदित्यनाथ ने पत्रकारवार्ता में कहा कि केन्द्र सरकार गोरखपुर में एम्स की स्थापना को लेकर गंभीर है। राज्य सरकार की अगंभीर नीतियों के कारण काम शुरू नहीं हो पा रहा है।

चार जगह रिजेक्ट हुए
योगी आदित्यनाथ ने बताया कि एम्स के लिये प्रदेश सरकार ने गोरखपुर में चार जगहों का प्रस्ताव किया था लेकिन चारो जगह मानक के अनुरूप नहीं हैं। इन चार जगहों में खुटहन भी शामिल है। राज्य सरकार ने फोरलेन बनाने का कोरा आश्वासन तो दे दिया लेकिन इस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं हुई है।

योगी ने लिखा था पत्र
एम्स की स्थापना से जुड़ी चिंताओं को लेकर योगी आदित्यनाथ ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को २२ दिसम्बर को पत्र लिखा था। उसका जवाब २४ दिसम्बर को आया है। जवाब में उन सभी परिस्थितियों के बारे में जानकारी दी गई है जिनके कारण गोरखपुर में एम्स की स्थापना की प्रक्रिया नहीं शुरू हो पा रही है।

loading...
शेयर करें