बच्चा बन गया ग्राम प्रधान

आगरा। पिनाहट ब्लॉक के चचिहा ग्राम पंचायत में अयोग्य व्यक्ति ग्राम प्रधान बन गया। चौंकाने वाली बात यह है कि दस्तावेजों में हेराफेरी कर नाबालिग बन गया है ग्राम प्रधान। जब से यह मामला प्रकाश में आया है तभी से प्रशासन में हड़कम्प मचा हुआ है।

दरअसल अधिकारियों और कर्मचारियों की मिलीभगत से कागजों में हेराफेरी कर प्रधान प्रत्याशी गजेन्द्र ने अपनी उम्र इक्कीस साल दिखा दी जब्कि उसके स्कूली कागजों में उम्र सत्रह साल तीन माह है और भारतीय संविधान के अनुसार प्रधानी चुनाव लड़ने के लिये प्रत्याशी की उम्र 21 साल होनी चाहिए। वहीं विपक्षी प्रत्याशी पूरन सिंह ने मामले की शिकायत डी.एम से करते हुए चुनाव रद्द करने की माँग की है। अगर उसे प्रशासन से इंसाफ नही मिला तो वे न्यायालय का दरवाजा खटखायेगा।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button