बारिश और बर्फबारी से फिर लौटी हाड़ कंपाने वाली ठंड, इस जगह हाईवे हुए बंद

0
उत्तराखंड: बुधवार को लगातार दूसरे दिन भी बारिश और बर्फबारी का सिलसिला जारी है। पहाड़ से लेकर मैदान तक मंगलवार रात से ही बारिश हो रही है। बारिश और बर्फबारी के कारण ठंड भी बढ़ गई है। वहीं, पहाड़ में बर्फबारी के कारण कई जगह हाईवे बंद हैं, जिससे लोगों को आने-जाने में काफी परेशानी उठानी पड़ रही है।  

पहाड़ों की रानी मसूरी और धनोल्टी व आसपास के क्षेत्रों में मंगलवार से ही बर्फबारी हो रही है। बुधवार सुबह मसूरी की खूबसूरत वादियां बर्फ से पूरी तरह लकदक दिखीं। स्थानीय लोगों के साथ ही देश-विदेश से आए पर्यटकों ने बर्फबारी का लुत्फ उठाया। मसूरी में बारिश और धनोल्टी में बर्फबारी से मौसम काफी ठंडा हो गया। मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे ऊंचाई वाले इलाकों में बारिश और बर्फबारी की चेतावनी जारी की है। मौसम विभाग की चेतावनी के बाद जिला प्रशासन भी अलर्ट हो गया है। मसूरी धनोल्टी मार्ग बंद कर दिया गया है। मसूरी- कैंपटी मार्ग भी जीरो प्वाइंट के पास बंद कर दिया गया है।

छह जिलों में स्कूलों में छुट्टी

मौसम विभाग के बारिश और बर्फबारी के पूर्वानुमान को देखते हुए गढ़वाल के छह जिलों में बुधवार को कक्षा एक से 12वीं तक के सभी सरकारी और गैर सरकारी स्कूलों में अवकाश घोषित कर दिया गया है।साथ ही सभी आंगनबाड़ी केंद्र भी बंद रहेंगे। उत्तरकाशी, चमोली, टिहरी, पौड़ी और रुद्रप्रयाग के जिलाधिकारियों ने इस संबंध में विभागीय अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं। वहीं हरिद्वार में कक्षा पांच तक के स्कूल बंद रहेंगे।

गंगोत्री-यमुनोत्री व गौरीकुंड हाईवे बंद

बर्फबारी के कारण पहाड़ में कई जगह हाईवे बंद हो गए हैं। गंगोत्री हाईवे सुखी टॉप से आगे बर्फबारी के कारण बाधित है। वहीं, यमुनोत्री राष्ट्रीय राजमार्ग रांडी टॉप, स्याना चट्टी, हनुमान चट्टी में बर्फ जमने से बंद हो गया है। सुवाखोली मोटर मार्ग भी बर्फबारी के कारण बाधित है रुद्रप्रयाग गौरीकुंड राष्ट्रीय राजमार्ग भी बांसवाड़ा में मलवा और पत्थर गिरने के कारण बंद हो गया है। कुमाऊं में बर्फबारी के चलते थल-मुनस्यारी सड़क फिर बंद हो गई। बलाती, बेटुलीधार में कई वाहन फंसे हुए हैं।जेसीबी मशीनें रास्तों को खोलने में जुटी हुई हैं।

आज भी बारिश और ओले गिरने का अनुमान

मौसम विभाग ने बुधवार को भी ज्यादातर इलाकों में बारिश और ओले गिरने का अनुमान जताया है। बारिश से दून के अधिकतम तापमान में करीब दो डिग्री की कमी रिकॉर्ड की गई। इससे ठंड में इजाफा हुआ है। मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि बुधवार को भी बारिश के आसार बने हुए हैं।बुधवार को पहाड़ के ज्यादातर क्षेत्रों में कोल्ड-डे कंडीशन रहने का अनुमान जताया है। अधिक ऊंचाई वाले क्षेत्रों में शीतलहर चल सकती है। प्रदेश के दो हजार मीटर और उससे अधिक ऊंचाई वाले इलाकों में भारी बर्फबारी हो सकती है। विशेषकर उत्तरकाशी, चमोली, रुद्रप्रयाग और पिथौरागढ़ में बर्फबारी का अनुमान है।
loading...
शेयर करें