दी थी पति की हत्या की सुपारी गंवा बैठी खुद की जान

kaushambi picकौशांबी। प्यार में रोड़ा बन रहे पति को राह से हटाने के लिए पत्नी ने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति  की हत्या की साजिश रच रही थी। लेकिन पति के खिलाफ की गई साजिश पत्नी के लिए ही जानलेवा साबित हो गयी।

पति को मारने के लिए उसने दो सुपारी किलर को पैसा दिया, पैसा लेने के बाद हो महीने तक वारदात को अंजाम नहीं देने पर वो रूपए वापस मांगने के लिए दबाव बनाने लगी जिस वजह से सुपारी किलरों ने उसी की हत्या कर दी।
करारी थानाक्षेत्र के बधवा कल्याण गांव के पास बीते आठ दिसंबर को एक महिला का शव मिला था।  शव की शिनाख्त छीबों निवासी शोभा पांडेय के रूप में हुई थी। छानबीन  के बाद पुलिस अधिकारियों ने बताया कि मृतका का गांव के एक युवक से प्रेम संबंध था। इस वजह से वो पति की हत्या करना चाहती थी। इसके लिए उसने अपनी चचेरी बहन तुलसा मिश्रा और उसके प्रेमी ओमप्रकाश शुक्ला को पति की हत्या की सुपारी दे दी। जब दो महीने बाद भी ओमप्रकाश हत्या नहीं कर सका तो शोभा ने उससे अपने रुपए वापस मांगे। ऐसे में ओमप्रकाश ने अपने साथी संदीप कुमार के साथ मिलकर शोभा की हत्या कर दी।

पति -पत्नी के तकरार में बीच बचाव करने वाला बन गया प्रेमी
पड़ोसियों का कहना है  कि शादी के बाद से ही किसी न किसी बात को लेकर शोभा और उसके पति कालीचरन में तकरार होता रहता था। तकरार में बीच -बचाव करने वाले एक युवक के करीब शोभा आ गई। युवक गांव का ही रहने वाला था। इसकी जानकारी जब पति को हुई तो विवाद और बढ़ गया। प्रेमी की शह पर  शोभा पति की हत्या कराना चाहती थी। इसके लिए उसने चचेरी बहन के प्रेमी ओमप्रकाश को 50 हजार की सुपारी दी थी।

पुलिस की एसओजी  टीम लगी थी जांच में

एसओजी टीम ने  शोभा हत्याकांड का खुलासा कर दिया। हत्या के आरोप में मृतका की चचेरी बहन, उसके प्रेमी और साथी को गिरफ्तार किया गया है। आरोपियों ने बताया कि मृतका ने प्रेम-प्रसंग की वजह से पति की हत्या की सुपारी दी थी, लेकिन दो महीने तक वारदात को अंजाम नहीं देने पर वो रुपए वापस मांगने लगी। ऐसे में उसका मर्डर कर दिया। पुलिस ने सभी के खिलाफ कार्रवाई करते हुए जेल भेज दिया है।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button