बकरीद, Eid Ul Adha के जश्न में डूबा देश, राष्ट्रपति कोविंद और पीएम मोदी ने दी मुबारकबाद

देशभर में आज ईद उल-अजहा का त्योहार मनाया जा रहा है, इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बधाई दी है

नई दिल्ली: देशभर में आज बकरीद (Bakrid), ईद उल-अजहा (Eid Ul Adha) का त्योहार मनाया जा रहा है। ईद उल-अजहा भी मीठी ईद की तरह होती है। जो तीन दिनों तक मनाई जाती है। और इसी के साथ ही 3 दिन तक कुर्बानी का सिलसिला चलता रहता है। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को बधाई दी है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (President Ram Nath Kovind) देशवासियों को ईद मुबारक देत हुए बोले ईद-उज-जुहा प्रेम, त्‍याग, बलिदान की भावना के प्रति आदर व्‍यक्‍त करने और समावेशी समाज में एकता और भाईचारे के लिए मिलकर कार्य करने का त्‍योहार है। हम COVID-19 से बचाव के उपाय अपनाते हुए समाज के हर वर्ग की खुशहाली के लिए काम करने का संकल्‍प लें।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने ईद उल-अजहा के मौके पर देशवासियों को बधाई दी है। उन्होंने बोला ईद मुबारक! ईद-उल-अजहा की हार्दिक शुभकामनाएं। यह दिन सामूहिक सहानुभूति, सद्भाव और अधिक से अधिक अच्छे की सेवा में समावेश की भावना को आगे बढ़ाए।

कोविड गाइडलाइन का पालन

दिल्ली की फतेहपुरी मस्जिद (Fatehpuri Masjid) के शाही इमाम, मुफ्ती मुकर्रम ने बकरीद के मौके पर लोगों से कहा मैं सभी भारतवासियों को ईद की मुबारकबाद और शुभकामनाएं देता हूं। सरकार ने जो गाइडलाइन जारी की है, उसके मुताबिक आज मस्जिद के अंदर के लोगों ने ही नमाज अदा की। हम दुआ करते हैं कि हमारे देश से कोरोना खत्म हो जाए।

कर्नाटक के मंगलुरु में ईद उल-अजहा के मौके पर लोगों ने मस्जिद में नमाज अदा की। इसके साथ ही गुजरात के अहमदाबाद की जामा मस्जिद (JAMA Masjid) में लोगों ने ईद उल-अजहा की नमाज अदा की। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में भी बकरीद के मौके पर लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए नोएडा सेक्टर-8 की जामा मस्जिद में नमाज अदा की। अयोध्या (Ayodhya) की कोटिया मस्जिद में नमाज अदा की गई है। हैदराबाद की मक्का मस्जिद (Mecca Masjid) में भी लोगों ने नमाज अदा की।

जम्मू-कश्मीर (Jammu and Kashmir) के श्नीनगर में ईद उल-अजहा का त्योहार मनाया जा रहा है। एक व्यक्ति ने बताया, “कोविड के कारण कई जगहों पर नमाज नहीं पढ़ी गई और कई जगहों पर पढ़ी गई हैं। प्रशासन ने हमें जो निर्देश दिए थे हमने उनका पालन किया है।”

यह भी पढ़ेCorona Update: देश में COVID-19 के 42,015 नए केस, जानिए राज्य में आंकड़े

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles