महामारी के कहर से जल्द उबरेगा देश, बेहतर होगी जीडीपी ग्रोथ रेट : IMF

वाशिंगटन : जानकारों की माने तो भारत की GDP ग्रोथ 2021 में 12.5 फीसदी की करीब रह सकती है। हाल ही में जारी अपनी रिपोर्ट में IMF ने अनुमान जताया है कि 2021 में ग्लोबल इकोनॉमी की ग्रोथ 6 फीसदी और 2022 में 4.4 फीसदी के करीब रहेगी।

वॉशिंगटन की ग्लोबल फाइनेंशियल इंस्टीट्यूशन ने अपने एनुअल वर्ल्ड इकोनॉमिक आउटलुक को मद्देनज़र रखते हुए जारी की गई रिपोर्ट में बताया की 2022 में इंडियन इकोनॉमी ग्रोथ 6.9 परसेंट रहने की उम्मीद है। आप की जानकारी के लिए बताते चलें की कोरोनावायरस से ग्लोबल इकॉनमी को काफी नुकसान हुआ था और इसी वजह से इंडिया का ग्रोथ रेट नेगेटिव में चला गया था। इसी कड़ी में IMF की यह रिपोर्ट देश के लिए राहत की खबर है जिसमें कहा गया है की इस साल भारत की ग्रोथ रेट 12.5 फीसदी रह सकती है।

इंडियन ओरिजिन की हैं IMF चीफ इकोनॉमिस्ट गोपीनाथ

IMF की चीफ इकोनॉमिस्ट गीता गोपीनाथ ने हाल ही में दिए अपने बयान में कहा है कि हम अंदाज़ा लगा रहे हैं कि 2021 और 2022 में ग्लोबल इकोनॉमी में अच्छी रिकवरी होगी और ग्लोबल ग्रोथ कोविड के पहले की तुलना में बेहतर होगी। ग्लोबल इकोनॉमी की ग्रोथ 2021 में 6 फीसदी और 2022 में 4.4 फीसदी रहने की उम्मीद है। आपकी जानकारी के लिएब बताते चलें कि 2020 में ग्लोबल इकोनॉमी ग्रोथ 3.3 फीसदी थी। गीता गोपीनाथ ने अपने बयान में यह भी कहा कि फाइनेंशियल स्टेबिलिटी के लिए सरकारों को तेजी से मज़बूत फैसले लेने की जरूरत है।

यह भी पढ़े : आइये डालते हैं Bjp के चार दशक के इस सियासी सफर पर एक नज़र

Related Articles