अदालत ने आरोपी को सुनाई सश्रम कारावास (Rigorous imprisonment) की सजा

मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले में आरक्षक के साथ हुई मारपीट के मामले में आरोपी को एक वर्ष का सश्रम कारावास (Rigorous imprisonment) की सजा सुनाई है

उज्जैन: मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) के उज्जैन जिले की एक अदालत ने आरक्षक के साथ हुई मारपीट के मामले में एक आरोपी को एक वर्ष का सश्रम कारावास (Rigorous imprisonment) की सजा सुनाई है।

अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी मुकेश कुमार कुन्हारे ने बताया कि जिले के उन्हेल थाने में पदस्थ आरक्षक मनीष व्यास 11 अगस्त 2013 को आरक्षक धीरज सिंह और भेरू सिंह के साथ थाने के आरोपी की तलाश में नागदा गये थे। आरोपी रतन सिंह एक ढाबे के पास आरोपी खड़ा था। इसी दौरान आरोपी रतनसिंह ने आरक्षक मनीष के साथ गाली गलौच कर मारपीट की और जान से मारने की धमकी देकर जंगल की तरफ भाग गया।

यह भी पढ़े14 नक्सलियों (Naxalites) ने किया आत्मसमर्पण

पड़ताल के बाद आरोपी गिरफ्तार

इस मामले में आरक्षक मनीष की रिपोर्ट पर पुलिस ने शासकीय कार्य में बाधा पहुंचने सहित अन्य धाराओं में प्रकरण दर्ज किया। प्राथमिक जांच पड़ताल के बाद आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ अदालत में चालान पेश किया गया। जहाँ सुनवाई में अदालत के न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी नदीम जावेद खान ने आरोपी को दोषी पाया और कल आरोपी को एक वर्ष का सश्रम कारावास तथा सात हजार रूपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया है।

यह भी पढ़ेअमेरिकी डॉलर (Dollar) के मुकाबले रुपया 7 पैसे मजबूत

Related Articles

Back to top button