माकपा ने की योगी सरकार की निंदा, कहा- भाजपा का दलित प्रेम केवल दिखावा

लखनऊ। मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) की उत्तर प्रदेश इकाई ने भीम आर्मी के नेता चंद्रशेखर पर रासुका की अवधि तीन महीने और बढ़ाने पर योगी सरकार की निंदा की और कहा कि भाजपा का दलित प्रेम महज दिखावा है। 

पार्टी ने कहा कि एक तरफ तो भाजपा नेता, उसके सरकार के मंत्री दलितों के घर खाने के बहाने उनकी हमदर्दी पाना चाहते हैं, दूसरी ओर चंद्रशेखर और दूसरे कई दलित युवाओं को अनायास रासुका लगाकर जेल में बंद किए हुए हैं। इससे स्पष्ट है कि भाजपा तथा योगी सरकार दलित प्रेम का नाटक और दिखावा कर रही है और उसका मकसद नाटकबाजी के जरिए केवल दलितों का समर्थन हासिल करना है।

साथ ही कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि सच्चाई तो यह है कि देश और प्रदेश में जबसे भारतीय जनता पार्टी की सरकार बनी है, लगातार दलितों के साथ हो रहे उत्पीड़न, हत्या, दुष्कर्म की घटनाओं में सर्वाधिक वृद्धि हुई है, दलितों की शिकायत पर एफआईआर तक दर्ज नहीं हो रहे हैं। देश व प्रदेश का दलित वर्ग आज भय के वातावरण में जीने के लिए मजबूर है और खुद को सबसे ज्यादा असुरक्षित महसूस कर रहा है। प्रवक्ता ने कहा कि मुख्यमंत्री अगर दलितों के वाकई हितैषी हैं या दलितों से प्रेम करते हैं तो उन्हें दिखावा छोड़कर ईमानदारी के साथ दलितों के हितों के लिए कार्य करना चाहिए।

Related Articles