24 घंटे पड़ा था शव, कोरोना के डर से पुलिस नहीं छुआ, वीडियो वायरल होने पर पोस्टमार्टम भेजा

उत्तर प्रदेश: कानपुर में जनता नगर बर्रा पुलिस का अमानवीय चेहरा सामने आया है। इलाके के बसंत पेट्रोल पंप के पास स्थित ओवरब्रिज के नीचे एक अज्ञात युवक का शव देख लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी, लेकिन कोरोना संदिग्ध समझकर पुलिसकर्मी उसे हाथ लगाने से डर गए।स्थानीय लोगों के विरोध और सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद जैसे-तैसे शु्क्रवार देर शाम पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा। इसके चलते शव करीब 24 घंटे पुल के नीचे पड़ा रहा। स्थानीय लोगों ने बताया कि पेट्रोल पंप के सामने अंडर पास में गुरुवार शाम करीब चार बजे एक युवक शव पड़ा देख पुलिस को सूचना दी गई।इस पर जनता नगर चौकी की पुलिस मौके पर पहुंची। आरोप है कि पुलिस शव को कोरोना संदिग्ध का समझकर वापस लौट गई। शुक्रवार को जब इसका वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो पुलिस दोबारा मौके पर आई और शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेजवाया।जनता नगर चौकी इंचार्ज राजेश कुमार ने बताया कि कोरोना संदिग्ध होने की आशंका पर मेडिकल टीम को सूचना दी गई थी, लेकिन जब दोपहर एक बजे तक कोई नहीं पहुंचा तो शव को अज्ञात में पोस्टमार्टम के लिए भेजना पड़ा। इसी वजह से देरी हुई।

 

Related Articles