चिकित्सक न मिलने से युवक की मौत, ग्रामीणों और परिजनों ने किया हंगामा

घटना को लेकर ग्रामीणों और परिजनों ने आक्रोश व्यक्त किया और आरोप लगाया कि बमनाला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक की अनुपस्थिति के चलते समय पर इलाज ना मिलने से युवक की मृत्यु हो गयी।

खरगोन: मध्यप्रदेश के खरगोन जिले के भीकनगांव थाना क्षेत्र के बमनाला में आज करंट लगने से प्रभावित व्यक्ति को स्वास्थ्य केंद्र लाए जाने पर चिकित्सक के नहीं मिलने पर मृत्यु हो जाने के उपरांत ग्रामीणों ने हंगामा किया।

भीकनगांव के अनुविभागीय अधिकारी पुलिस पी के उइके ने बताया कि बमनाला निवासी 33 वर्षीय शैलेंद्र तंवर अपने खेत में पानी देने गया था। मोटर चालू करने के दौरान उसे करंट लग गया और उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र बमनाला लाया गया। जहां चिकित्सक के नहीं मिलने पर 12 किलोमीटर दूर भीकनगांव ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। उईके ने बताया कि चिकित्सकों के मुताबिक शैलेंद्र की मृत्यु घटना स्थल पर ही हो गई थी।

घटना को लेकर ग्रामीणों और परिजनों ने आक्रोश व्यक्त किया और आरोप लगाया कि बमनाला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में चिकित्सक की अनुपस्थिति के चलते समय पर इलाज ना मिलने से युवक की मृत्यु हो गयी। भीकन गांव स्थित शासकीय अस्पताल में हंगामा किए जाने के चलते वहां पुलिस बल और प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और उन्होंने ग्रामीणों को समझा बुझा कर हंगामा संत कराया।

यह भी पढ़े: नगरपालिका परिषद (एनडीएमसी) ने प्लास्टिक लाओ – मास्क पाओ अभियान शुरू किया

यह भी पढ़े: समुद्र में डूबी नाव, छह मछुआरे लापता, तटरक्षक बल के जवान खोज और बचाव अभियान में जुटे

Related Articles