डॉक्टर (Doctor) भरते रह गए अपना पेट, घायल युवक की तड़प-तड़प कर हुई मौत

बड़वानी: मध्यप्रदेश के बड़वानी जिले के सेंधवा स्थित शासकीय अस्पताल लाए गए एक घायल युवक की मृत्यु के बाद ग्रामीणों ने विलंब से आने का आरोप लगाते हुए एक चिकित्सक के साथ मारपीट की। सेंधवा के शासकीय सिविल अस्पताल में पदस्थ डॉक्टर (Doctor) सुनील पटेल ने बताया कि उन्हें कुछ ग्रामीणों द्वारा आज रात विलंब से आने का आरोप लगाते हुए पीटा गया है, जिसके चलते उन्हें हाथ और कंधे पर चोट आई है।

ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर ओ एस कनेल ने बताया कि ग्राम वासवी के समीप दो दुपहिया वाहनों की आमने सामने टक्कर हो जाने के चलते चार घायलों को आज रात शासकीय सिविल अस्पताल लाया गया था। उन्होंने बताया कि डॉक्टर (Doctor) पटेल की सुबह 9:00 बजे से अगले दिन सुबह 9:00 बजे तक इमरजेंसी ड्यूटी पर थे। इसी दौरान वह अस्पताल के पीछे बने अपने शासकीय क्वार्टर में भोजन करने गए थे। उनके वापस आने तक 30 वर्षीय भाई दास की मृत्यु हो गई थी। उन्होंने कहा कि ग्रामीणों ने डॉक्टर (Doctor) पटेल के साथ मारपीट की है और वे मामले की पुलिस में शिकायत कर रहे हैं।

उन्होंने बताया कि घटना में घायल तीन अन्य युवकों को प्राथमिक उपचार के बाद जिला अस्पताल (District Hospital) रेफर कर दिया गया है। भाई दास के परिजन तथा ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि घायल अवस्था में लाए जाने के उपरांत वहां कोई नहीं था और डॉक्टर (Doctor) पटेल करीब 45 मिनट बाद अस्पताल आए। चिकित्सक के अनुपस्थित रहने के चलते भाईदास को उपचार नहीं मिला और उसकी मृत्यु हो गई। उन्होंने आरोप लगाया कि अन्य घायलों को भी अटेंड नहीं किया गया।

यह भी पढ़ें:

Related Articles

Back to top button