पूरे सफाई कर्मियों की स्मार्टफोन से होगी अटेंडेंस, महापौर ने बांटे थे मोबाइल

लखनऊ: लखनऊ के समस्त सफाईकर्मियों की अटेंडेंस और ट्रेकिंग अब स्मार्टफोन से की जाएगी, पहला चरण सफल होते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने इसे पूरे शहर में लागू करने के लिए नगर आयुक्त से व्यवस्था की समीक्षा की। ज्ञात हो कि नगर निगम में सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ करने के लिए स्मार्टफोन द्वारा संचालित सफाई कर्मियों के उपस्थिति की व्यवस्था का शुभारंभ महापौर संयुक्ता भाटिया द्वारा किया गया था, जिसमे प्रयोग के तौर पर महापौर द्वारा जोन 8 के करीब 7 वार्डो में 749 सफाई कर्मियों को मोबाइल प्रदान कर उनकी ट्रेकिंग प्रारम्भ कराई थी, जिसमे रिपोर्ट के अनुसार 749 सफाई कर्मी उपस्थित रहे और 292 अनुपस्थित रहे।

महापौर संयुक्ता भाटिया ने बताया कि इस व्यवस्था के अंतर्गत सभी सफाई कर्मियों को सिस्टम में हदबंदी करके मार्ग का आवंटन कर दिया गया था तथा उसकी हदबंदी के तहत सफाई कर्मियों की उपस्थिति की जांच की गई और यह देखा गया की उपरोक्त कर्मचारी सही समय पर निरधारित मार्ग पर पहुंच कर आवंटित किये गए क्षेत्र की सफाई कर रहा है की नहीं ,साथ ही साथ सफाई कर्मचारियों का कण्ट्रोल रूम द्वारा मॉनिटरिंग भी की गयी।

इस व्यवस्था के तहत समय पर न आने वाले एवं आवंटित क्षेत्र से बहार रहने वाले कर्मचारियों की सुचना कण्ट्रोल रूम से ट्रैक की गई , तथा इस सूचना के आधार पर सफाई कर्मी सुपरवाइजर एवं उच्च अधिकारियो को सूचना मिली। साथ ही कर्मचारियों के अपने आवंटित क्षेत्र में समय से नहीं पहुंचने पर 5 मिनट के देरी पर एक अलर्ट मैसेज जारी हुआ तथा 15 मिनट की देरी पर दूसरी बार मैसेज आया।

पूरा कवर नहीं करने पर भी अलर्ट मैसेज

निर्धारित क्षेत्र पर समय से न पहुंचने पर एवं अपनी हदबंदी को पूरा कवर नहीं करने पर भी अलर्ट मैसेज आएगा और समान्तर सूचना कण्ट्रोल रूम को भी प्राप्त होगी। इसी के साथ – साथ इस मोबाइल के माध्यम से नगर निगम कोई भी सूचना कर्मचारियों तक आसानी से पहुंचा सकते है एवं कर्मचारी भी अपनी बात को नगर निगम प्रशासन तक पहुँचा सकता है। मोबाइल प्राप्त करने से कर्मचारियों को कई व्यक्तिगत लाभ भी है जैसे हर कर्मचारी के पास यह बातचीत के लिए तो उपलब्ध रहेगा तथा इंटरनेट के माध्यम से सरकारी योजनाओं एवं अन्य सुविधाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते है।

कोई भी व्यक्ति सफाई न होने की शिकायत

महापौर ने आगे बताया कि अगर कोई भी व्यक्ति सफाई न होने की शिकायत करता है या विभाग को सफाई की रिपोर्ट उपलब्ध करानी हो तो वो भी इस मोबाइल के माध्यम से आसानी से उपब्लध कराया जा सकता है। इस व्यवस्था से स्थानिय नागरिको को भी सफाई कर्मचारियों से जुड़े रहने की सुविधा मिल जाएगी तथा असुविधा होने पर वो लोग सफाई कर्मचारी से संपर्क भी कर सकेंगे।

सफाईकर्मियों की मॉनिटरिंग न होने पर

ज्ञात है कि पूर्व में उपस्थिति के जांच की ऐसी व्यवस्था ना होने के कारण सफाईकर्मियों की सुचारू रूप से मॉनिटरिंग नहीं हो पाती थी जिस वजह से यह तय कर पाना मुश्किल होता था कि कर्मचारी निर्धारित समय पर अपनी हदबंदी में काम कर रहा है या नही l इसके लिए पूर्णतया सुपरवाइजर के निरीक्षण पर आश्रित रहना पड़ता था किन्तु नए व्यवस्था के तहत कर्मचारियों की उपस्थिति की जांच करना अत्यंत सुविधाजनक हो जाएगा। इस व्यवस्था से यह सुनिश्चित हो जायेगा की साफ सफाई व्यवस्था एक निश्चित समय में निर्धारित हदबंदी के तहत हो रही है की नहीं।

Related Articles