पूर्ववर्ती भाजपा सरकार ने आदिवासी समेत हर वर्ग का शाेषण किया: हेमंत

इस चुनाव के परिणाम से सरकार की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन दोनों सीटों पर महागठबंधन के प्रत्याशियों की जीत से यह सरकार और अधिक मजबूती के साथ जनाकांक्षाओं को धरातल पर उतारने में सफल होगी.

दुमका: झारखंड मुक्ति मोर्चा (झामुमो) के कार्यकारी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने पूर्व मुख्यमंत्री रघुवर दास पर नौकरी के नाम पर राज्य के विभिन्न जिलों को बांटने का आरोप लगाते हुए आज कहा कि भाजपा ने अपने पांच साल के शासन में आदिवासी, दलित, अल्प संख्यक एवं पिछड़ा वर्ग के लोगों का शोषण और अत्याचार करने के साथ ही उनके पहले के कार्यकाल में गरीबों के लिए शुरू कल्याणकारी योजनाओं को ठप कर दिया.

सोरेन मंगलवार को दुमका विधानसभा क्षेत्र के लखीकुंडी, आसनसोल, कुमड़ाबाद, मुड़ा बहाल, बासकीचक और बंसजोड़ा सहित कई गांवों में झामुमो प्रत्याशी बसंत सोरेन के पक्ष में आयोजित चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि झारखंड अलग राज्य निर्माण के लगभग बीस साल बाद राज्य में उनके नेतृत्व में झामुमो की पूर्ण बहुमत की सरकार बनी है. राज्य विधानसभा में उनकी सरकार के पास 50 विधायकों का समर्थन है. राज्य में दुमका एवं बेरमो दो विधानसभा क्षेत्रों में उप चुनाव हो रहा है. इस चुनाव के परिणाम से सरकार की सेहत पर कोई असर नहीं पड़ेगा, लेकिन दोनों सीटों पर महागठबंधन के प्रत्याशियों की जीत से यह सरकार और अधिक मजबूती के साथ जनाकांक्षाओं को धरातल पर उतारने में सफल होगी.

मुख्यमंत्री ने कहा कि लोकतंत्र में जनता के बहुमूल्य वोटों से ही सरकार बनाती है. इस कारण जनता ही सरकार का असली मालिक है. पिछले पांच साल के दौरान आदिवासी, दलित एवं पिछड़ा वर्ग के लोगों का शोषण और अत्याचार करने वाली भाजपा को इस उपचुनाव में जनता के समर्थन से मजबूत लाठी- डंडे से खदेड़ दिया जायेगा. उन्होंने कहा कि अब इस राज्य में भाजपा की नहीं बल्कि झारखंडियों की चलेगी.

यह भी पढ़े: रंगीन मिज़ाज़ सेक्रेटरी व कर्मचारी बार बालाओं के साथ लगा रहे ठुमके, VIRAL VIDEO

Related Articles