लखनऊ में हैवानियत, गैंगरेप के बाद ईंट-पत्थरों से कुचल दिया किशोरी का चेहरा

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में महिलाओं के साथ हो रहे अपराध थमने का नाम नहीं ले रहा। ताजा घटना उत्तर प्रदेश के मड़ियांव में एक दलित किशोरी के साथ गैंगरेप की घटना सामने आई है। इसके बाद भी हैवानों का मन नहीं भरा तो ईंट-पत्थरों से किशोरी को कुचलकर मारने की कोशिश की। इस मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया हो, वहीँ पीड़िता ने तीन अज्ञात लोगों पर भी रेप का आरोप लगाया है।

मड़ियांव

मिली जानकारी के मुताबिक, मूलरूप से मलीहाबाद की रहने वाली किशोरी मड़ियांव में अपनी मां और चार भाइयों के साथ रहती है। उसके पिता की मौत पहले ही हो चुकी है। मंगलवार शाम को वह घर से निकली, लेकिन देर रात तक नहीं लौटी। परिजनों ने काफी तलाश किया पर उसकी कोई खबर नहीं मिली।

इस बीच कुछ लोग एक किशोरी को बेहोशी व लहूलुहान हालत में ट्रामा सेंटर के गेट पर छोड़कर भाग गए। होस में आने के बड़ा पीड़िता ने अपनी आप बीती सुनाई। उसने बताया कि मंगलवार शाम को घर से निकलते ही बउवा उसे सुनसान जगह ले गया। वहां उसके तीन और साथी मौजूद थे। तीनों ने मुंह दबाकर उसके साथ जबरदस्ती की। विरोध किया तो चेहरे पर ईंट से कई वार किए।

किशोरी के मुताबिक चोट लगने की वजह से वो बेहोश हो गई उसके बाद क्या हुआ उसे कुछ नहीं पता? वो ट्रामा सेंटर में कैसे पहुंची उसे ये भी नहीं पता। पुलिस ने तत्काल कार्रवाई करते हुए मानखेड़ा गांव के बउवा समेत तीन युवकों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली है। पुलिस ने बउवा को गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं बउवा का कहना है कि किशोरी उसकी जान पहचान की है और मोटर साईकिल से गिरने की वजह से उसे ये चोट लगी है।

Related Articles