सरकार को जिम्मेदार ठहरा, किसान ने की खुदकुशी (Suicide)

दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश के गाजीपुर बॉर्डर पर शनिवार को एक किसान ने सार्वजनिक शौचालय में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

गाजियाबाद: राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली तथा उत्तर प्रदेश के गाजीपुर बॉर्डर (Ghazipur border) पर शनिवार को एक किसान ने सार्वजनिक शौचालय में फंदा लगाकर आत्महत्या कर ली।

मृतक किसान का नाम सरदार कश्मीर सिंह बताया गया है, जो मूल रूप से उत्तर प्रदेश में रामपुर जनपद के बिलासपुर क्षेत्र का निवासी था। किसान ने मरने से पहले लिखे सुसाइड नोट में इसके लिए केंद्र सरकार को जिम्मेदार ठहराया है।

पुलिस के अनुसार कश्मीर सिंह सुबह गाजीपुर बॉर्डर के नजदीक ही नगर निगम के सार्वजनिक शौचालय (toilet) में नित्य क्रिया करने गया था, वहां उसने रस्सी से फंदा (trap) लगाकर आत्महत्या कर ली। पुलिस को मिले सुसाइड नोट में किसान ने लिखा है कि मेरा अंतिम संस्कार मेरे पोते, बच्चे के हाथों यहीं दिल्ली- यूपी बॉर्डर पर किया जाए।

क्योंकि उनका परिवार बेटा और पोता यही आँदोलन (Protest) में निरंतर सेवा कर रहे हैं। किसान ने सुसाइड नोट में लिखा है कि आंदोलन के मद्देनजर सरकार विफल है। सरकार किसानों की बात सुन नहीं रही है, इसलिये मैं अपनी जान देकर जा रहा हूँ, ताकि कोई हल निकल सके।

यह भी पढ़े: बिहार, लद्दाख में सबसे ज्यादा कोरोना के मामले

Related Articles

Back to top button