एसएसपी दफ्तर के सामने दुष्कर्म पीड़िता के पिता ने की आत्मदाह की कोशिश

मुरादाबाद। संत-महंत मुख्यमंत्री के राज में एक दुष्कर्म पीड़िता बच्ची के पिता को न्याय के लिए दर-दर की ठोकरें खानी पड़ रही है। पीड़िता के पिता ने बुधवार को एसएसपी कार्यालय के सामने आत्मदाह का प्रयास किया। 

दुष्कर्म

लाचार पिता खुद पर मिट्टीतेल उड़ेलकर माचिस से खुद को आग लगाने ही जा रहा था, तभी एलआईयू इंस्पेक्टर सचिन कुमार ने उसके हाथ से माचिस छीन लिया। पीड़ित परिवार आत्महत्या से रोके जाने पर एलआईयू इंस्पेक्टर से ही भिड़ गया और हाथापाई पर उतर आया।

मामला सिविल लाइन थाना क्षेत्र का है, जहां पीड़ित परिवार ने एक युवक पर 10 वर्षीय बच्ची को अगवा कर उसके साथ दुष्कर्म किए जाने का आरोप लगाया है। पीड़ित परिवार का कहना है कि उन्होंने पुलिस चौकी पर तहरीर दी, तो चौकी इंचार्ज ने पीड़ित पिता से कोरे कागज पर अंगूठा लगवाकर उन्हें वापस भेज दिया। उनका आरोप लगाया है कि पुलिस आरोपियों के साथ मिलकर समझौते का प्रयास के लिए दबाव बना रही है। पीड़ित पिता ने निराश होकर एसएसपी दफ्तर के सामने आत्मदाह का प्रयास किया।

एएसपी अपर्णा गुप्ता का कहना है, “जानकारी मिली थी कि एक नाबालिग बच्ची का अपहरण कर लिया गया था। इस मामले में जांच की जा रही है। बच्ची का मेडिकल कराया जा चुका है। आरोपियों की तलाश जारी है, इस मामले में जांच के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी।”

Related Articles